Indian Railways: मोदी का दांव रेलवे पर भारी, रोज लाखों का नुकसान है जारी

Indian Railways: मोदी का दांव रेलवे पर भारी, रोज लाखों का नुकसान है जारी
Indian Railways: कश्मीर में रोज लाखों का नुकसान झेल रही रेलवे!

Nitin Bhal | Updated: 17 Sep 2019, 05:19:05 PM (IST) Jammu, Jammu, Jammu and Kashmir, India

Indian Railways: जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 का निष्प्रभावी किए जाने के बाद से कश्मीर में रेल सेवाएं बाधित हैं। ऐसे में लोगों को...

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 का निष्प्रभावी किए जाने के बाद से कश्मीर में रेल सेवाएं बाधित हैं। ऐसे में लोगों को तो परेशानी हो ही रही है, रेलवे को भी लाखों का नुकसान हो रहा है। 5 अगस्त से, जब सरकार ने अनुच्छेद 370 निष्प्रभावी करने के मद्देनजर कश्मीर में प्रतिबंध लगाए, तो सेवा स्थगित कर दी गई। उत्तर रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि रेलवे सेवा बंद करने के हर दिन रेलवे को दो लाख रुपए का नुकसान हो रहा है। ऐसे में अब तक करीब एक करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका है। रेलवे की परिसंपत्तियों के रखरखाव के लिए बड़ी लागत की आवश्यकता होती है और जब सेवा पूरी तरह से बंद हो जाती है, तो यह बढ़ जाता है।

तीन साल में करीब 300 दिन बंद

Indian Railways: कश्मीर में रोज लाखों का नुकसान झेल रही रेलवे!

पिछले तीन वर्षों के दौरान कश्मीर में 300 दिनों के लिए रेल सेवा बंद कर दी गई है। 2016 में, जब हिजबुल मुजाहिदीन के स्वयंभू कमांडर बुरहान वानी के मारे जाने के करीब पांच महीने बाद तक कश्मीर बंद रहा, तब सेवा 135 दिन रेल सेवा बंद रही। 2017 में बाढ़ के दौरान 25 दिनों तक ट्रेन सेवा का संचालन नहीं किया। 2018 में, ट्रेन 92 दिनों तक निलंबित रही। इसके अलावा कई बार स्थिति बिगडऩे पर प्राधिकरण बनिहाल और बारामूला के बीच 137 किलोमीटर की लाइन पर रेल सेवाओं को निलंबित कर देता है।

बन रहा चिंता का विषय

Indian Railways: कश्मीर में रोज लाखों का नुकसान झेल रही रेलवे!

सूत्रों ने कहा कि कश्मीर में रेलवे को वर्षों से भारी नुकसान हुआ है, जो संबंधित मंत्रालय के लिए चिंता का विषय है। केंद्रीय रेल मंत्रालय की यात्री सेवा समिति रेलवे बोर्ड के सदस्यों की एक टीम इस साल जुलाई में घाटी में दो दिवसीय यात्रा पर आई। उसने अपनी प्रतिक्रिया में कश्मीर में लगातार ट्रेन रद्द होने पर निराशा व्यक्त की है। मुख्य रूप से, बनिहाल और बारामुला के बीच प्रतिदिन औसतन 15 जोड़ी ट्रेनें छात्रों, कर्मचारियों और मजदूरों सहित 30,000 से अधिक यात्रियों को ले जाती हैं।

हमले का रहता है डर

Indian Railways: कश्मीर में रोज लाखों का नुकसान झेल रही रेलवे!

पुलिस विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि घाटी में रेल सेवा एहतियात के तौर पर निलंबित है। क्योंकि प्रदर्शनकारियों द्वारा ट्रेन पर कई बार हमला किया जा चुका है। रेलवे दक्षिण और उत्तरी कश्मीर में कई संवेदनशील क्षेत्रों से गुजरती है। इसलिए प्रदर्शनकारियों द्वारा किसी भी हमले को रोकने के लिए एहतियाती उपाय के रूप में सेवा को निलंबित कर दिया गया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned