सेना की जवाबी कार्रवाई से भीगी बिल्ली बन जाता है पाक

( Jammu&Kashmir News ) सीमा पार से पाकिस्तान भारतीय सेना (Army reply to Pak) को उकसाने का काम कर रहा है। पहले युद्धविराम का उल्लंघन ( Pak violation ) फिर यदि भारत की ओर से इसका मुंहतोड़ जवाब दिया जाए तो भीगी बिल्ली बन कर बैठ जाता है।

जम्मू: ( Jammu&Kashmir News ) सीमा पार से पाकिस्तान भारतीय सेना (Army reply to Pak) को उकसाने का काम कर रहा है। पहले युद्धविराम का उल्लंघन ( Pak violation ) फिर यदि भारत की ओर से इसका मुंहतोड़ जवाब दिया जाए तो भीगी बिल्ली बन कर बैठ जाता है। पाकिस्तानी सैनिकों ने उत्तरी कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के साथ सटे टंगडार में भारतीय चौकियों व रिहायशी इलाकों को निशाना बनाते हुए गोलाबारी की परंतु जब भारतीय जवानों ने भी इसका मुंहतोड़ जवाब दिया तो कुछ ही देर बाद पाकिस्तानी सैनिकों ने गोलाबारी बंद कर दी।

पाक को मिल रहा है मुंहतोड़ जवाब
इससे पहले जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में पाकिस्तान ने युद्ध विराम का उल्लंघन किया। जानकारी के मुताबिक मंगलवार शाम को पाकिस्तान सेना ने पूँछ के शाहपुर करनी सेक्टर में बड़े और मध्यम हथियारो से गोलीबारी की। भारतीय सेना ने इसका मुंहतोड़ जवाब दे रही है। इस गोलाबारी में अभी तक किसी भी नुकसान की सूचना नहीं है।

बौखलाया पाक
जानकारी के अनुसार, पाकिस्तानी सेना ने दोपहर बाद जिला कुपवाड़ा में एलओसी के साथ सटे करनाह, टंगडार और जिला बांडीपोरा में गुरेज सेक्टर को निशाना बनाना शुरू कर दिया। पाकिस्तानी सैनिकों ने सबसे पहले करनाह सेक्टर में जियारत, ठंड और अमन सिंह टेकरी चौकियों के दायरे में आने वाले सैन्य व नागरिक ठिकानों पर तोप और मोर्टार से गोले दागे। सेना ने पहले संयम बनाए रखा, लेकिन जब गोलाबारी की तीव्रता बढऩे लगी तो जवानों ने भी पाकिस्तानी ठिकानों को निशाना बनाना शुरू कर दिया। इससे पाकिस्तान की सेना ने खिसकने में ही भलाई समझी और भारी गोलीबारी बंद कर दी।

पाक निर्दोषों को बना रहा निशाना
पाकिस्तानी सेना ने गत सोमवार को भी टंगडार सहित करनाह और गुरेज सेक्टर में भारतीय नागरिक व सैन्य ठिकानों पर भारी गोलाबारी की थी। इसमें टंगडार सेक्टर में एक 60 वर्षीय ग्रामीण की मौत और चार अन्य लोग घायल हो गए। भारतीय सेना ने भी पाकिस्तानी सेना को मुंहतोड़ जवाब देते हुए गुलाम कश्मीर के अग्रिम छोर पर नीलम घाटी में स्थित एक आतंकी लांचिंग पैड के साथ पाकिस्तानी सेना के दो निगरानी मोर्चे भी तबाह कर दिए थे। अलबत्ता, पाकिस्तानी सेना को पहुंचे नुकसान की अधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है। देर रात तक दोनों तरफ से भारी गोलाबारी जारी रही। इस बीच, प्रशासन ने पाकिस्तानी गोलाबारी को देखते हुए स्थानीय लोगों को बीती रात से ही सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाना दिया था। बड़ी संख्या में लोगों ने निकटवर्ती सुरक्षा शिविरों व बंकरों में भी शरण ली हुइ है।

Show More
Yogendra Yogi Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned