कश्मीर: हिजबुल के तीन आतंकी गिरफ्तार, असलहा बरामद

कश्मीर: हिजबुल के तीन आतंकी गिरफ्तार, असलहा बरामद

Nitin Bhal | Updated: 23 Jul 2019, 08:09:03 PM (IST) Jammu, Jammu, Jammu and Kashmir, India

Hizbul Mujahideen: पुलिस ने मंगलवार को हिजबुल मुजाहिदीन ( Hizbul Mujahideen ) के तीन आतंकियों ( Terrorist in Kashmir ) को गिरफ्तार किया है। पुलिस ( J&K Police ) के अनुसार ये तीनों श्रीनगर और जम्मू शहरों में कई उग्रवाद संबंधी घटनाओं में शामिल थे। गिरफ्तार...

श्रीनगर. पुलिस ने मंगलवार को हिजबुल मुजाहिदीन ( Hizbul Mujahideen ) के तीन आतंकियों ( Terrorist in Kashmir ) को गिरफ्तार किया है। पुलिस ( J&K Police ) के अनुसार ये तीनों श्रीनगर और जम्मू शहरों में कई उग्रवाद संबंधी घटनाओं में शामिल थे। गिरफ्तार आतंकी आसिफ इकबाल डार व शाहिद हसन डार श्रीनगर के सौरा के निवासी हैं। वहीं, एक अन्य आतंकी रशीद लतीफ मीर बारजुल्ला इलाके का रहने वाला है। पुलिस अधिकारी के अनुसार, ये तीनों आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन से संबद्ध थे। लम्बे समय से इनकी तलाश थी। पुलिस ने कहा कि ये गिरफ्तारियां पुलिस द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली मानव और तकनीकी जांच के बाद की गईं हैं। पुलिस ने कहा कि जांच के दौरान यह पता चला है कि अलगाववादी नेता मोहम्मद अशरफ सेहराई का बेटा जुनैद शेहराई इस समूह का हिस्सा था, जिसके कहने पर यह तीनों युवक आतंकी घटनाओं को अंजाम देते थे।
पुलिस ने कहा कि ये तीनों आतंकी 27 मार्च को चनापोरा में पुलिसकर्मी रोमन पर हमले में शामिल थे। जिसमें वह घायल हो गए थे। उन्होंने कहा कि ये तीनों जम्मू में ग्रेनेड फैंकने की घटनाओं में भी शामिल थे। पुलिस ने कहा कि उनके कब्जे से गोला-बारूद व जिंदा कारतूस बरामद किए गए हैं।

लम्बे समय से थी तलाश

पुलिस ने कहा कि उन्होंने इस संबंध में कानून की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है और मामले में आगे की जांच चल रही है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) श्रीनगर, डॉ. हसीब मुगल ने कहा कि सौरा का आसिफ लंबे समय से पुलिस के रडार पर था। हम लंबे समय से उसका पीछा कर रहे थे। एक दिन वह लापता हो गया और पुलवामा पहुंच गया। जिसके बाद माता-पिता ने पुलिस थाना सौरा में एक प्राथमिकी दर्ज कराई थी। उन्होंने युवाओं से उग्रवाद में शामिल नहीं होने का आग्रह किया। बता दें अभी तक कश्मीर में करीब 100 से ज़्यादा आतंकियों को सेना ने मार गिराया है। ये आतंकी हिजबुल, लश्कर-ए - तैयबा जैसे संगठनों से जुड़े थे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned