जम्मू-कश्मीर में कईं मोर्चों पर जंग लड़ रहे सुरक्षाबलों के जवान, हर दुश्मन को दी मात

सब परेशानियों के बाद भी भारतीय सुरक्षाबलों के जवानों का अदम्स साहस बरकरार है (Security Forces Fighting Against Terror And Pakistan In Jammu Kashmir) (Jammu Kashmir News) (Kashmir News) (Encounter In Kashmir) (Indian Army)...

By: Prateek

Published: 22 Jun 2020, 04:23 PM IST

जम्मू: हमारे भारत देश को इस समय कईं समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। विश्वव्यापी Coronavirus महामारी ने लोगों की मुश्किल बढ़ा दी है, चीन और नेपाल के साथ सीमा विवाद छिड़ गया है। इन सब परेशानियों के बाद भी भारतीय सुरक्षाबलों के जवानों का अदम्स साहस बरकरार है। आलम यह है कि भारतीय सेना, जम्मू-कश्मीर पुलिस, अर्ध सैनिक बल सभी सुरक्षाबलों के जवान जम्मू-कश्मीर में तीन मोर्चों पर एक साथ लड़ाई लड़ रहे हैं। एक तरफ आतंक, दूसरी तरफ पाकिस्तान और तीसरी तरफ Coronavirus होने के बावजूद हमारे जवान मोर्चे पर डटे हुए हैं।

यह भी पढ़ें: Nepal ने भारत पर लगाया Coronavirus फैलाने का आरोप, 90 प्रतिशत मामले प्रवासी श्रमिकों से आए

मुठभेड़ जारी...

जम्मू-कश्मीर में कईं मोर्चों पर जंग लड़ रहे सुरक्षाबलों के जवान, हर दुश्मन को दी मात

जम्मू-कश्मीर के अलग-अलग इलाकों से बीते दिनों से लगातार सुरक्षाबलों व आतंकियों के बीच मुठभेड़ की खबर सामने आ रही है। सुरक्षाबलों ने कईं हार्डकोर आतंकियों को ढेर करने के साथ ही आतंक को मुंहतोड़ जवाब भी दिया है। आज भी अनंतनाग जिले में स्थित 'वेरीनाग कापरेन' के जंगली इलाके में जवानों की आतंकियों के साथ मुठभेड़ शुरू हो चुकी है। अन्य जानकारी की प्रतीक्षा की जा रही है।

यह भी पढ़ें: Kanpur के संवासिनी गृह में 57 महिलाएं COVID-19 पॉजिटिव, 5 प्रेग्नेंट युवतियां भी शामिल

इससे पहले सुरक्षाबलों ने रविवार को श्रीनगर में तीन और शोपियां जिले में 1 आतंकी को ढेर किया था। श्रीनगर में तो आतंकियों को सरेंडर करने के लिए सुरक्षाबलों ने बड़ी समझाइश की। उनके माता—पिता को बुलाकर भी उन्हें समझाने की कोशिश की गई। 10 घंटे तक कोई बात नहीं बनी, इसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। कश्मीर के आईजीपी विजय कुमार ने बताया कि 4 महीनों में घाटी में सक्रिय आतंकी संगठन, लश्कर—ए—तैयब्बा, हिजबुल मुजाहिद्दीन, जैश—ए—मोहम्मद और गजवज उल हिंद के मुख्य सरगना मारे जा चुके है। इससे पहले गुरुवार और शुक्रवार के दरमियानी 24 घंटे में सुरक्षाबलों ने 8 आतंकियों को मार गिराया था। पुलवामा और शोपियां में हुई मुठभेड़ में 8 आतंकी मारे गए।

पंपोर की उस मस्जिद का वीडियो जिसमें छिपे आतंकियों को मार गिराया गया था। इससे धार्मिक स्थल को किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचा। स्थानीय निवासियों ने भी सेना के इस कदम की सराहना की।

यह भी पढ़ें: यूएन ने जताई परमाणु हमले की आशंका, धुएं और धूल के गुब्बार से खत्म हो सकता है सूरज का वजूद

लगातार युद्धविराम का उल्लंघन...

 

जम्मू-कश्मीर में कईं मोर्चों पर जंग लड़ रहे सुरक्षाबलों के जवान, हर दुश्मन को दी मात

इधर सीमावर्ती इलाकों में पाकिस्तान लगातार युद्धविराम का उल्लंघन कर रहा है। हालांकि भारतीय सेना पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दे रही है। लेकिन रोज रोज ऐसी घटनाओं से सीमावर्ती इलाकों में तनाव व्याप्त है। अक्सर आतंकियों की घुसपैठ कराने के लिए पाकिस्तान युद्धविराम का उल्लंघन किया करता है।

सोमवार को भी राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर और पुंछ के कृष्णा घाटी सेक्टर में पाकिस्तान ने गोलीबारी की। भारतीय सेना ने भी जवाबी फायर कर माकूल जवाब दिया। नौशेरा में भारतीय सेना के हवलदार दीपक कार्की शहीद हो गए।

हथियार तस्करी को नाकाम किया...

इधर शनिवार 20 जून को कठुआ में बीएसएफ ने पाकिस्तान के एक ड्रोन को पकड़ लिया। इसके जरिए आतंकियों के लिए हथियारों की तस्करी की जा रही थी। ड्रोन के साथ अमरीकी बीन एम4 सेमी ऑटोमेटिक कारबाइन, 60 रांउड, 2 मैग्जीन, सात ग्रेनेड बरामद किए गए। ड्रोन भेजने में आईएसआई के भी शामिल होने की आशंका जताई गई। इतनी बड़ी मात्रा में हथियार देखकर लगता है कि आतंकी किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे जो कि नाकाम हो गई।

जम्मू-कश्मीर की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned