शाह फैसल ने कहा- मै वही करूंगा जो कश्मीर के नौजवान चाहेंगे

2009 की यूपीएससी परीक्षा में प्रथम रहने के बाद चर्चा में आए शाह फैसल ने गत सोमवार को नौकरी से इस्तीफा दे दिया था...

By: Prateek

Published: 10 Jan 2019, 07:34 PM IST

(जम्मू): आईएएस की नौकरी से इस्तीफा देने के बाद एक बार फिर सुर्खियों में आए पूर्व नौकरशाह शाह फैसल ने गुरुवार को को कहा कि मेरे इस्तीफे की खबर के साथ ही कई लोगों ने मुझे खूब भला-बुरा कहा, तो कईयों ने प्रशंसा भी की है। लेकिन मैंने अभी अपने भविष्य के बारे मे कोई फैसला नहीं लिया है। मै वही करूंगा जो कश्मीर के लोग विशेषकर कश्मीर का नौजवान चाहेंगे।


j&k से पहले आईएएस टॉपर है फैसल

2009 की यूपीएससी परीक्षा में प्रथम रहने के बाद चर्चा में आए शाह फैसल ने गत सोमवार को नौकरी से इस्तीफा दे दिया था। बुधवार को उनके इस्तीफे की खबर फैली और उसके बाद सोशल मीडिया समेत स्थानीय हल्कों में भी इस पर खूब चर्चा हुई। उनके रियासत की सियासत में शामिल होने की अटकलों ने भी जोर पकड़ा। दावा किया गया कि वह नेशनल कांफ्रेंस में जा सकते हैं, तो एक अन्य चर्चा के मुताबिक वह रियासत की सियासत में पीपुल्स कांफ्रेंस के नेतृत्व में उभर रहे तीसरे मोर्चे का हिस्सा बन सकते हैं, लेकिन शाह फैसल अपने अगले कदम को लेकर पूरी तरह चुप बैठे हैं।

 

सभी प्रतिक्रिया की पहले से थी उम्मीद

गुरुवार को उन्होंने एक बार फिर ट्वीटर और फेसबुक का सहारा लिया और कहा कि इस्तीफे की घोषणा के बाद उनके फैसले को लेकर उनकी तारीफ-निंदा करने वालों की बाढ़ आ गई। हजारों की तादाद में लोग अपने-अपने तरीके से इस पर अपनी प्रतिक्रया जता रहे हैं। मैं ऐसी ही उम्मीद कर रहा था। शाह फैसल ने आगे लिखा है कि फिलहाल इतना ही कि मैने नौकरी से इस्तीफा दे दिया है। अब आगे मैं क्या करने जा रहा हूं, यह कश्मीर के लोगों विशेषकर नौजवानों पर निर्भर करेगा कि वह मुझसे क्या चाहते हैं। उन्होंने कहा कि मुझे अंदाजा है कि आगे क्या करना है। मुझे पूरा यकीन है कि आपके पास भी विचार होगा और आप चाहेंगे कि मैं कोई भी अंतिम फैसला लेने से पूर्व इन विचारों अथवा सुझावों पर जरूर गौर करुं।

 

सोशल मीडिया से बाहर निकल कर लोग करे मुझसे मिले

उन्होंने आगे लिखा है कि अगर लोग फेसबुक और ट्वीटर से बाहर आकर श्रीनगर में मुझसे मिलें, तो वह इस मुददे पर आपस में बैठकर विचार विमर्श कर सकते हैं। मेरी सियासत क्या होगी, यह जमीनी रूप से जुड़े सही लोगों द्वारा तय होगा, न कि फेसबुक पर मिलने वाले लाईक और टिप्पणियों से। फैसल ने कहा कि वह इस बैठक के लिए समय और स्थान का खुलासा तभी करेंगे, जब उन्हें पता चलेगा कि कौन मिलने आ रहा है। आओ देखें कि सैंकड़ों, हजारों में से कितने सामने आकर बातचीत करने, सलाह मशविरे के लिए आगे आते हैं।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned