VIDEO: पीएम मोदी के 'दिवाली' वाले बयान पर बोलीं महबूबा:-पाकिस्तान ने भी 'ईद' के लिए नहीं बचाए परमाणु बम

Prateek Saini | Publish: Apr, 22 2019 05:40:49 PM (IST) | Updated: Apr, 22 2019 05:40:50 PM (IST) Jammu, Jammu, Jammu and Kashmir, India

महबूबा मुफ्ती इससे पहले भी लगातार इस तरह के बयान देती रही हैं...

(श्रीनगर): जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस बयान की कड़ी आलोचना की है, जिसमें उन्होंने पाकिस्तान को चेताते हुए कहा था कि हमने दिवाली मनाने के लिए परमाणु बम नहीं रखा है। मोदी के इस बयान पर पलटवार करते हुए मुफ्ती ने दो टूक कहा कि भारत ने अगर परमाणु बम दिवाली मनाने के लिए नहीं रखा है, तो जाहिर है कि जो (परमाणु बम) पाकिस्तान के पास होंगे, वे भी ईद के लिए नहीं रखे होंगे। ये हिसाब बराबर होता है। इस दौरान महबूबा ने पीएम मोदी के चुनावी भाषणों के स्तर को लेकर भी नाराजगी जताई। महबूबा कुलगाम में पार्टी के एक समारोह में पत्रकारों को संबोधित कर रही थीं। इस दौरान मुफ्ती ने यह भी कहा कि उन्हें समझ नहीं आता कि आखिर पीएम मोदी इतने निचले स्तर तक जाकर बयानबाजी क्यों कर रहे हैं। मुफ्ती ने यह भी आरोप लगाया कि पीएम ने राजनीतिक बहस के स्तर को काफी नीचे गिराने का काम किया है।

 

देती रही हैं ऐसे बयान

महबूबा मुफ्ती इससे पहले भी लगातार इस तरह के बयान देती रही हैं। कुछ ही समय पहले भाजपा के संकल्प पत्र में अनुच्छेद 370 पर वादे को लेकर भी महबूबा ने ट्वीट किया था। उन्होंने लिखा, "अनुच्छेद 370 पर अदालत में समय क्यों बर्बाद करें। भाजपा अनुच्छेद 370 खत्म करे, हमें इसका इंतजार करना चाहिए। इस अनुच्छेद के खत्म होने से हम पर चुनाव लड़ने पर रोक लग जाएगी, क्योंकि तब भारतीय संविधान जम्मू-कश्मीर पर लागू होगा। न समझोगे तो मिट जाओगे ये हिंदोस्तां वालों। तुम्हारी दास्तां तक भी ना होगी दास्तानों में।


यासीन मलिक की पैरवी की

इसी के साथ ही महबूबा मुफ्ती ने जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के प्रमुख यासीन मलिक का स्वास्थ खराब होने के मद्देनजर उन्हें तिहाड़ जेल से रिहा करने की भी मांग की। पत्रकारों से बातचीत करते हुए महबूबा मुफ्ती के कहा की यासीन मलिक का स्वास्थ बहुत खराब है। सरकार से उसे तत्काल रिहा करने के लिए अपील करना चाहूंगी, ताकि वह इलाज कराएं। भगवान न करे, अगर उसके साथ कुछ बुरा होता है, तो परिणाम विनाशकारी होगा। मुफ्यी ने यह भी कहा कि भारत सरकार को मलिक की पत्नी और उनकी बेटी को उनसे मिलने की अनुमति देनी चाहिए।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned