Video: जब DGP बोले- '200 से 300 आतंकी हैं सक्रिय', पाकिस्तानी घुसपैठ ​का भी किया खुलासा

Prateek Saini

Updated: 06 Oct 2019, 08:21:09 PM (IST)

Jammu, Jammu, Jammu and Kashmir, India

(जम्मू): जम्मू-कश्मीर पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने आतंकियों की मौजूदगी को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि जम्मू और कश्मीर में अभी भी 200 से 300 सक्रिय आतंकवादी हैं। इसके साथ ही उन्होंने पाकिस्तान की घिनौनी हरकत का पर्दाफाश किया।

 

डीजीपी रविवार को पूंछ में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि जम्मू और कश्मीर दोनों क्षेत्रों में भारी संख्या में संघर्ष विराम उल्लंघन हो रहा हैं। पाकिस्तान द्धारा संघर्ष विराम उल्लंघन में वृद्धि का मुख्य कारण सीमा पार से भारत में घुसपैठियों का प्रवेश करवाना है।


इन इलाकों में हो रहा सीजफायर का उल्लंघन

उन्होंने कहा कि जम्मू के कानाचक, आरएस पुरा, हीरानगर, राजौरी और पुंछ जबकि कश्मीर के करना, नामला, उरी, केरन में पाकिस्तानी सेना की ओर से संघर्ष विराम का उल्लघंन किया जाता है। ऐसा करके पाकिस्तान भारतीय सीमा में घुसपैठियों को प्रवेश करवाने की कोशिश करता है। हालांकि उन्होंने कहा कि इस तरह के कई प्रयासों को नाकाम कर दिया गया है। रिपोर्टों के हवाले से उन्होंने कहा कि बड़ी संख्या में आतंकवादी इस तरफ घुसपैठ करने में सफल रहे हैं।

 

उन्होंने कहा कि हाल ही में हुई घुसपैठ के बाद कुछ मुठभेड़ें भी हुईं जिनमें कई आतंकवादी मारे गए जबकि कुछ पाकिस्तानी आतंकवादी जिंदा पकड़े गए। हमने गुलमर्ग में सफलतापूर्वक उग्रवादी पकड़े जबकि गांदरबल में दो आतंकवादी मारे गए थे। उन्होंने कहा कि राज्य में मौजूद हर आतंकवादी को खोजने और बेअसर करने के लिए हमारे खोज अभियान तेज हैं।


यहां सामान्य है हालात...

डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा कि जम्मू, लेह और कारगिल के क्षेत्रों में स्थिति बहुत शांतिपूर्ण है, और यह कश्मीर में भी बेहतर होने लगी है। लोगों के जनजीवन के बारे में बताते हुए डीजीपी ने कहा, “आज (6 अक्टूबर) सुबह, सड़कों पर बहुत अधिक यातायात था, बाजार खुले हैं, व्यवसाय चालू हैं। आने वाले दिनों में स्थिति बेहतर होगी।”

 

जम्मू-कश्मीर की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: Video: नजरबंद फारूक अब्दुल्ला से मिलने के बाद क्या बोले नेशनल कान्फ्रेंस नेता?

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned