कोरोना काल का आश्चर्य, बिन ब्याही गाय दे रही है दूध

(Jharkhand News ) कोरोना (Corona ) की विस्मित कर देने वाली सूचनाओं के बीच इस एक ऐसी करिश्माई गाय (Amazing cow ) मिली है, जोकि बछड़े-बछड़ी को जन्म दिए (Cow giving milk without birth ) बगैर ही दूध दे रही है। पौरोणिक काल में जरूर कामधेनू (Kamdhanu ) का किस्सा मिलता है, जोकि इच्छानुसार दूध देती थी, किन्तु यह गाय भी कुछ ऐसा ही कमाल दिखा रही है।

By: Yogendra Yogi

Published: 03 Sep 2020, 11:29 PM IST

जमशेदपुर(झारखंड): (Jharkhand News ) कोरोना (Corona ) की विस्मित कर देने वाली सूचनाओं के बीच इस अवधि में एक ऐसी खबर पर आई है, जिस पर सहज ही विश्वास करना कठिन है। वह यह है कि एक ऐसी करिश्माई गाय (Amazing cow ) मिली है, जोकि बछड़े-बछड़ी को जन्म दिए (Cow giving milk without birth ) बगैर ही दूध दे रही है। पौरोणिक काल में जरूर कामधेनू (Kamdhanu ) का किस्सा मिलता है, जोकि इच्छानुसार दूध देती थी, किन्तु यह गाय भी कुछ ऐसा ही कमाल दिखा रही है। इसका यह चमत्कार देख (Miracle ) कर सब आश्चर्यचकित हैं। इस आश्चर्य में भी एक आश्चर्य ओर शामिल है, वह यह गाय पालक एक अल्पसंख्यक है।

दोनों वक्त 8 लीटर दूध
इस अनहोनी घटना का मामला सामने आया है झारखंड में लोहरदगा जिले के कुडू प्रखंड के सुंदरु गांव में। इस गांव के रहने वाले मोहम्मद अब्दुल अहद की गाय बछड़े को जन्म दिये बगैर बछड़े वाली गाय की तरह दूध दे रही है। दूध भी थोड़ा-बहुत नहीं बल्कि पूरा आठ लीटर के करीब। सुबह को पांच और शाम में तीन लीटर तक दूध दे रही है। इस गाय की अनुपम महिला के चलते यह दर्शनीय हो गई है। यह गाय अब ग्रामीणों के बीच कौतूहल का विषय बन गई है। जैसे-जैसे इसकी ख्याति बढ़ती जा रही है, इसके दर्शन करने वालों की संख्या भी बढ़ती जा रही है।

6 माह की गर्भवती
गाय मालिक अब्दुल अहमद के मुताबिक इस गाय का जन्म उनके घर पर ही हुआ था। अब्दुल की गाय से यह पैदा हुई थी। यह अभी तक एक बार भी गर्भवती नहीं हुई है।। यह उनके घर की गाय की बछिया है, जिसने पहली बार अब 6 माह पहले गर्भधारण किया है। प्राकृतिक नियम के मुताबिक इसे बच्चे को जन्म देने में 4 माह अभी ओर शेष हैं। अब्दुल के परिवार के लोग इसके प्रसव का इंतजार कर रहे थे।

चिकित्सकीय जांच में सामान्य
इसी बीच गाय का थन धीरे-धीरे बढऩे लगा। इसी दौरान एक दिन थन से दूध टपकने लगा तो पशु चिकित्सक को बुलाकर जांच कराई और परामर्श लिया गया। जिस पर चिकित्सक ने जांच करने के बाद इसको दूहने के लिए कहा। परिवार के सदस्यों ने बाल्टी लेकर दूहना भी शुरू किया। दूध की मात्रा देख सभी दंग रह गए। गाय ने 5 किलो से भी ज्यादा दूध दिया। यह सिलसिला पिछले कई दिनों से जारी है।

हारमोन्स में बदलाव
इस संबंध में पशु चिकित्सक डॉ. तनवीर अख्तर ने बताया कि कभी-कभी हारमोन्स में बदलाव के चलते इस प्रकार की बातें सामने आती हैं। उन्होंने बताया कि यह दूध किसी प्रकार का नुकसानदेय नहीं है बल्कि बच्चे वाली गाय के दूध की तरह ही सेवन किया जा सकता है। अब्दुल के घर पर अब सुबह से लेकर शाम तक इस गाय को देखने के लिए मेला लगा रहता है। 6 माह की गर्भवती गाय द्वारा एक बच्चे वाली गाय की तरह प्रतिदिन 8 से 9 लीटर दूध देने की खबर सुनकर आस-पास के गांव के लोग गाय को देखने जुट रहे हैं।

Show More
Yogendra Yogi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned