घर जंवाई की तरह खातिरदारी की उम्मीद में जान गंवाई

(Bihar News ) घर-जंवाई की तरह रुक कर ससुरालवालों से ( Son in law murdered ) खातिरदारी की उम्मीद करने की गलतफहमी ( Lock down )में एक युवक को जाने से हाथ धोना पड़ गया। ससुराल वालों ने भी चालाकी खूब ( Police arrested in laws ) दिखाने की कोशिश की पर कुछ काम नहीं आई। अब सभी ससुराल वाले जेल की हवा खा रहे हैं।

By: Yogendra Yogi

Published: 22 May 2020, 07:50 PM IST

जमुई/मुंगेर(बिहार)प्रियरंजन भारती: (Bihar News ) घर-जंवाई की तरह रुक कर ससुरालवालों से ( Son in law murdered ) खातिरदारी की उम्मीद करने की गलतफहमी ( Lock down ) में एक युवक को जाने से हाथ धोना पड़ गया। ससुराल वालों ने भी चालाकी खूब ( Police arrested in laws ) दिखाने की कोशिश की पर कुछ काम नहीं आई। अब सभी ससुराल वाले जेल की हवा खा रहे हैं।

लॉक डाउन में फंस गया
मुंगेर के बरियारपुर स्थित ससुराल में होली के पहले से फंसे यूपी के एक युवक की ससुराल वालों ने हत्या कर दी और शव को अधजला ही गंगा किनारे दफना दिया। अपराध तो किसी न किसी तरह सिर चढ़कर बोलने लगता है और कुकर्मी अंतत: पकड़ में आ ही जाते हैं। सो मामला पकड़ में आया और ससुराल वाले अब जेल की हवा खाने को विवश हो गए हैं।

होली के पहले ही आया था ससुराल

यूपी के रामकिशोर की शादी डेढ़ वर्ष पहले बरियारपुर थाने की बरियारपुर बरसती के त्रिवेणी तांती की बेटी अलका के साथ हुई थी। वह होली के छह दिन पहले ससुराल आया और लॉकडाउन में फंसकर रह गया। यहां रहने के दौरान पत्नी अलका और ससुराल वालों से उसका विवाद होने लगा।अंतत: ससुराल वालों ने मिलकर उसे मार डाला और शव को ठिकाने लगाने के लिए उसे अधजला ही गंगा किनारे बालू में दफना डाला।

साथी को ससुराल से मिली सूचना

मृतक रामकिशोर के साथी घनश्याम की सास ने 17 मई को फोन कर बताया कि उसके दोस्त की हत्या कर दी गई है। हत्या उसी दिन की गई थी। सूचना पाकर मृतक के भाई रामधनी रजक अपने परिजनों तथा घनश्याम के साथ बरियारपुर थाने पहुंचे और हत्या का मामला दर्ज कराया। पुलिस ने त्रिवेणी तांती, पुत्र साकेत और सुरजीत तथा पत्नी अलका को थाने लाकर सघन पूछताछ की तो सभी ने कबूल कर लिया कि रामकिशोर की हत्या कर दी है। साकेत और सुरजीत की निशानदेही पर गंगा किनारे बालू में दफना दिए गए अधजले शव को बरामद कर लिया। शव को पोस्टमॉर्टम के लिए मुंगेर सदर अस्पताल भेजा गया। हत्या की पुष्टि होने के साथ ही सभी आरोपियों को जेल भेज दिया गया है।

Show More
Yogendra Yogi Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned