script2.66 crore collected by taking action on private consumers, then incre | निजी उपभोक्ताओंंं पर कार्रवाई कर वसूले 2.66 करोड़ तो इधर सरकारी विभागों पर बढ़ गया 3.83 करोड़ | Patrika News

निजी उपभोक्ताओंंं पर कार्रवाई कर वसूले 2.66 करोड़ तो इधर सरकारी विभागों पर बढ़ गया 3.83 करोड़

एक ओर बकाया बिजली बिल वसूलने को लेकर विद्युत वितरण कंपनी द्वारा पिछले दिनों जिले में ताबड़तोड़ कार्रवाई की गई। इसका नतीजा भी निकला औैैैर भारी भरकम बकाया में २ करोड़ ६६ लाख ५६ हजार रुपए कम हो गए मगर दूसरी ओर शासकीय विभागों से एक पैसा नहीं आया। नतीजा जितना हाथ-पैर मारकर बिजली विभाग ने निजी उपभोक्ताओं से बकाया बिजली बिल वसूला उससे ज्यादा बिजली बिल शासकीय विभाग से फिर से चढ़ गया।

जांजगीर चंपा

Published: May 13, 2022 09:36:43 pm

जांजगीर-चांपा. बिजली विभाग ने २ करोड़ ६६ लाख ५६ हजार वसूले तो शासकीय विभागों पर ३ करोड़ ८३ लाख का बकाया बढ़ गया। ऐसे में बिजली विभाग को कुछ खास फायदा नहीं हुआ। बिजली विभाग पर अभी भी २५९ करोड़ ८२ लाख ४० हजार ७११ रुपए का बकाया है। जिसे वसूलने में पसीने छूट जा रहे हैं।
सख्ती केवल निजी ग्राहकोंंंंंंं पर, सरकारी विभाग को पूरी छूट
इसकी वजह बिजली विभाग द्वारा वसूली पर केवल निजी उपभोक्ताओं पर वसूली पर सख्ती और शासकीय विभाग पर छूट का नियम है। हाल ही में जिस तरह से निजी उपभोक्ताओं पर बिजली विभाग ने वसूली के लिए सख्ती की, लाइन काटे, चोरी का प्रकरण बनाया, दबाव बनाया लेकिन इस दौरान किसी भी शासकीय विभागों पर किसी तरह की सख्ती नहीं की गई। न तो लाइन काटा गया और न ही दबाव बनाया। लिहाजा एक तरफ से जहां विभाग को बकाया राशि की वसूली हुई तो दूसरी ओर उस अवधि में शासकीय विभागों का फूटी कौड़ी नहीं मिलने से स्थिति ढाई दिन चले अढ़ाई कोस वाली हो गई।
शासकीय विभागों पर बकाया १०० करोड़ से ज्यादा पहुंचा
जिले के शासकीय विभागों पर बिजली बिल का बकाया वर्तमान में १०० करोड़ ६० लाख ३३ हजार रुपए पहुंच गया है। जबकि निजी उपभोक्ताओं पर १५९ करोड़ २२ लाख रुपए का बिजली बिल बकाया है। इसमें नगरीय निकायों और ग्राम पंचायतों का ग्राफ बकायादारों से सबसे ऊपर है।
समस्या निवारण शिविरों के चलते कार्रवाई बंद
इधर प्रदेशभर में जन समस्या निवारण शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। इसी कड़ी में जिले में भी शिविर आयोजित हो रहे हैं। जिसके चलते सारे अधिकारी और विभागीय अमला इसी में व्यस्त हो गया है। इसके चलते ताबड़तोड़ कार्रवाई एक तरह से बंद हो गई है। ऊपर से गर्मी में बिजली की समस्या बढ़ जाती है इसीलिए मैदानी अमला इसी में लगा हुआ है। इसके चलते बकाया वसूली की रफ्तार धीमी पड़ गई है। विद्युत वितरण कंपनी के एसई बीके जैन के मुताबिक वर्तमान में २५९ करोड़ ८२ लाख रुपए का बकाया राशि है। वसूली के लिए कार्रवाई की जा रही है।
निजी उपभोक्ताओंंं पर कार्रवाई कर वसूले 2.66 करोड़ तो इधर सरकारी विभागों पर बढ़ गया 3.83 करोड़
निजी उपभोक्ताओंंं पर कार्रवाई कर वसूले 2.66 करोड़ तो इधर सरकारी विभागों पर बढ़ गया 3.83 करोड़

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.