मां तेरी छोटी सी नादानी समाज की आंख में कांटा क्या बनी, तूने तो मुझे गन्दी नाली में फेंक दिया

मानिकपुर कॉलोनी में सोमवार की सुबह उस समय सनसनी फैल गई।जब लोगों ने नाली के कचरे और गंदे पानी के बीच एक भ्रूण को देखा गया ।

कोरबा. मां तेरी एक छोटी सी नादानी समाज की आंख में कांटा क्या बनी तूने तो मुझे गंदी नाली में ही फेंक दिया। मां तेरे दामन पर लांछन के कुछ छींटे क्या लगे मुझे इस दुनिया से तन्हा करने के लिए मुझे ऐसी जगह पर फेंका जहां मेरी चीखों को कोई सुन भी ना सके लेकिन मेरा क्या कसूर !

अपहरण कर कुकर्म करने वाला हो गया था फरार, एक हफ्ते बाद बच्ची ने बाजार में सब्जी बेचते देख की आरोप

अगर बोल पाता तो शायद यही उस 8 माह के मन की टीस होती जिसे अवैध संबंध की परिणीति की वजह से मरने के लिए गन्दी नाली में फेंक दिया गया। मानिकपुर कॉलोनी में सोमवार की सुबह उस समय सनसनी फैल गई।जब लोगों ने नाली के कचरे और गंदे पानी के बीच एक भ्रूण को देखा गया ।

औंधे मुंह उसे नाली में फेंक दिया गया था ।सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुची ।पता चला कि भ्रूण 8 महीने के लड़के का था । उसे कब और किसने फेंका इसका पता नही चल पाया है । पुलिस ने संभावना जताई है कि इसके पीछे अवैध संबंध हो सकता है ।

हर साल सामने आते हैं दर्जन भर मामले

हर साल जिले में अलग-अलग थानाक्षेत्रों में ऐसे मामले सामने आते रहटे हैं लेकिन जिम्मेदार कभी पकड़ में नही आते ।अवैध गर्भपात कराने वाले क्लिनिक तक पुलिस कभी पहुच ही नही पाती । ऐसे छोटे छोटे क्लिनिक 10-20 हजार लेकर अवैध गर्भपात करवाते हैं।

सामाजिक संगठन ने अपने कार्यालय के सामने लगाया है पालना

वहीं इस मामले में सामाजिक संगठनों द्वारा पहल की गई है ।उन्होंने कोसाबाड़ी स्थित संगठन कार्यालय के बाद एक पालना लगाया है ।जहां कोई भी बिना किसी को सूचना दिए बच्चा छोड़कर जा सकता है ।

ये भी पढ़ें: पोर्न वीडियो वायरल करता था बीबीए का छात्र, एनसीआरबी की निशानदेही के बाद पुलिस ने किया गिरफ्तार

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned