scriptCaution: Poison being served in Maghi fair, colors used to dye clothes | सावधान: माघी मेले में परोस रहे जहर, फूड कलर की जगह मिला रहे कपड़े रंगने वाले रंग | Patrika News

सावधान: माघी मेले में परोस रहे जहर, फूड कलर की जगह मिला रहे कपड़े रंगने वाले रंग

मिलावट के नाम पर लोगों के सेहत के साथ खिलावड़ हो रहा है। खाने-पीने की चीजों में फूड कलर की बजाए कपड़े को रंगने में उपयोग किए जाने वाले रंगों का इस्तेमाल किया जा रहा है जो कैंसर जैसी घातक बीमारी की वजह भी बन सकता है। मिलावट का यह खुलासा फूड एंड सेफ्टी डिपार्टमेंट के माघी मेले में ऑन द स्पॉट जांच में हुआ है। जिसके बाद १० किलो जलेबी, ५ किलो मिक्चर, पकौड़े और रसगुल्ला को नष्ट कराया गया।

जांजगीर चंपा

Published: February 20, 2022 07:20:25 pm

जांजगीर-चांपा. वर्तमान में शिवरीनारायण में माघी मेला लगा हुआ है। यहां तरह-तरह के खाने-पीने की दुकानें सजी हुई है। ऐसे में खाद्य पदार्थों में मिलावट की आशंका को लेकर जांजगीर एसडीएम नंदिनी साहू के निर्देश पर चलित खाद्य परीक्षण ्रप्रयोगशाला के माध्यम से माघी मेले में जाकर जांच की गई। इस दौरान खाद्य सुरक्षा अधिकारी अर्पणा आर्या के नेतृत्व में मेले में अस्थायी होटलों और फूड स्टालों का निरीक्षण किया गया और खाने-पीने के १११ सामानों के सैंपल लिए गए और मौके पर ही चलित लैब के माध्यम से उनकी गुणवत्ता की जांच की गई। जिसमें १० दुकानों के सैंपल जांच में फेल हुए। इन दुकानों में बेची जा रही जलेबी, पकौड़े, मटर चाट, मिक्चर में फूड कलर की जगह मैटेलिक कलर (कपड़े रंगने वाले कलर) पाया गया। जिस पर इन दुकानों में १० किलो जलेबी, पांच किलो मिक्चर, पकौड़े एवं रसगुल्ले को तत्काल मौके पर ही नष्ट कराया गया। साथ ही दुकान संचालकों को दोबारा मैटलिक कलर का उपयोग नहीं करने सख्त चेतावनी दी गई। साथ ही सभी दुकान संचालकों से अपील की गई कि खाने-पीने के चीजों में मानक सामग्रियों का ही इस्तेमाल करें।
कैंसर जैसी गंभीर बीमारी होने का खतरा
खाद्य सुरक्षा अधिकारी अपर्णा आर्या ने बताया कि खाद्य पदार्थों में मैटेलिक कलर के उपयोग से कैंसर जैसी गंभीर बीमारी होने का खतरा रहता है। साथ ही शरीर के महत्वपूर्ण अंग जैसे किडनी, लीवर को नुकसान पहुंचाते हैं। लोगों को इस कलर के उपयोग के संबंध में जानकारी का अभाव पाया जाता है। विभाग द्वारा लोगों को जागरुकता के उद्देश्य से ही जांच की जा रही है। यह जांच आगे भी जारी रहेगी। दूसरी बार ऐसा करते पाए जाने पर वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।
चलित प्रयोगशाला से तत्काल रिपोर्ट
गौरतलब है कि फूड एंड सेफ्टी विभाग की सबसे बड़ी दिक्कत सैंपल जांच की होती है। क्योंकि सैंपल भेजने के बाद के १५ से २० दिन के बाद रिपोर्ट मिलती है तब तक मिलावटी वाली खाद्य सामग्री बिक जाती है। क्योंकि प्रदेशभर में लैब एक ही है जहां जांच करने में काफी समय लगता है। इसीलिए विभाग द्वारा चलित प्रयोगशाला वैन भी चलाई जा रही है जिसमें वाहन में भी एक लैब साथ चलता है। इसमें मौके पर ही खाद्य पदार्थों के सैंपल लेकर तत्काल जांच की जाती है और तुरंत रिपोर्ट भी मिल जाती है। जिससे मिलावट है या नहीं तुरंत पता चल जाता है। वर्तमान में यह वैन जिले में पहुंची है। माघी मेले में इसी वैन से जांच अभियान चलाया गया।
कड़ी सजा नहीं होने से डर नहीं
मिलावट के इस खेल में कड़ी सजा नहीं होने से मिलावटखोर लोगों के सेहत से खिलवाड़ करने से बाज नहीं आते। अभी तक जिले में मिलावट के १०० से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। इनमें से अधिकांश मामलों में मिलावटखोर २५-३० हजार रुपए तक जुर्माना भरकर बच जाते हैं। अभी तक किसी भी मिलावटखोरों को सजा नहीं मिली है। हालांकि कई मामले जरुर न्यायालय में चल रहे हैं। जिसमें अब तक फैसला नहीं आया है।
Chandrabhaga  Mela 2021...चंद्रभागा मेले में इन गतिविधियों पर प्रतिबंध
Chandrabhaga Mela 2021...चंद्रभागा मेले में इन गतिविधियों पर प्रतिबंध

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी केसः बहस पूरी, 1991 का वर्शिप एक्ट लागू होगा या नहीं, 24 को होगा फैसला, जानें सुनवाई से जुड़ी हर बातजम्मू और कश्मीर: आतंकियों के निशाने पर सुरक्षा बल, श्रीनगर में जारी किया गया रेड अलर्टजापान में पीएम मोदी का जोरदार स्वागत, टोक्यो में जापानी उद्योगपतियों से की मुलाकातऑक्सफैम ने कहा- कोविड महामारी ने हर 30 घंटे में बनाया एक नया अरबपति, गरीबी को लेकर जताया चौंकाने वाला अनुमानसंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजरबिहार में पटरियों पर धरना-प्रदर्शन के चलते 23 ट्रेनें रद्द, 40 डायवर्ट की गईंये हमारा वादा है, ताइवान पर चीनी हमले का अमरीका देगा सैन्य जवाब: US President Joe Bidenश्रीलंकाई क्रिकेटर का फील्डिंग के दौरान अचानक सीने में उठा दर्द, मैदान से सीधे पहुंचे अस्पताल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.