scriptCollector reached BDM tour but God of earth was not found, said he had | कलेक्टर पहुंचे बीडीएम दौरे पर तो नहीं मिले धरती के भगवान, कहा लूज मोशन के हो गए थे शिकार | Patrika News

कलेक्टर पहुंचे बीडीएम दौरे पर तो नहीं मिले धरती के भगवान, कहा लूज मोशन के हो गए थे शिकार

कलेक्टर तारण प्रकाश सिन्हा गुरुवार को जब बीडीएम अस्पताल पहुंचे तो यहां मात्र एक डॉक्टर ही मौजूद थीं। प्रभारी समेत दो डॉक्टर समय पर नहीं पहुंच पाई थीं।

जांजगीर चंपा

Updated: July 21, 2022 09:10:12 pm

तभी कलेक्टर ने उन्हें जमकर फटकार लगाते हुए कहा कि ड्यूटी टाइम क्या है तो उन्होंने बताया कि सुबह ८ बजे से एक बजे तक, लेकिन एक डॉक्टर ने सफाई देते हुए कहा कि लूज मोशन का शिकार हो गई थी। तो वहीं दूसरे डॉक्टर ने कहा कि रात को लेट नाइट ड्यूटी की थी। इसलिए देर हुई। कलेक्टर ने उन्हें जमकर फटकार लगाते हुए कहा कि ऐसी लेट लतीफी नहीं चलेगी। तब डॉक्टरों ने कलेक्टर को सफाई देते नजर आईं।
डॉक्टरों को अमूमन धरती के भगवान कहा जाता है। यदि यही डॉक्टर मरीजों की सेहत से खिलवाड़ करते रहें तो भगवान कहां से बनेंगे। कुछ ऐसी शिकायत कलेक्टर को बीडीएम अस्पताल से मिली थी। शिकायत यह थी कि यहां के डॉक्टर समय पर नहीं मिलते। जिसके चलते मरीज परेशान होते हैं। जिसका फायदा निजी अस्पताल के डॉक्टर उठाते हैं। जब बीडीएम के डॉक्टर समय पर अस्पताल पर नहीं पहुंचते तो मरीजों को निजी अस्पतालों की ओर रुख करना पड़ता है। शिकायत को गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर तारण प्रकाश सिन्हा गुरुवार की सुबह बीडीएम अस्पताल चांपा पहुंचे। कलेक्टर सुबह साढ़े दस बजे भी जब डॉक्टर अस्पताल नहीं पहुंचे तो उन्होंने लेट में पहुंचने वाले डॉक्टरों को जमकर फटकार लगाई। कलेक्टर के पहुंचने के बाद डॉ. श्रीवास्तव के अलावा डॉ. सरिता नागरची मौके पर पहुंचीं। तब तक साढ़े दस बज चुका था। तब डॉक्टरों को कलेक्टर ने जमकर फटकार लगाई और उन्हें घड़ी देखने को कहा। तब डॉक्टरों ने सफाई देते हुए नजर आई। एक डॉक्टर ने कहा कि उन्हें लूज मोशन हो गया था। इसके कारण से उन्हें देरी हुई। तो वहीं दूसरे डॉक्टर ने कहा कि रात को देर तक ड्यूटी की थी। जिसके चलते उन्हें देरी हुई। उनकी बहानेबाजी को कलेक्टर ने भांप लिया और कहा कि अब से यह बहानेबाजी नहीं चलेगी। वे समय पर अस्पताल पहुंचें और मरीजों का बेहतर इलाज करें।
ओपीडी कम क्यों है? थोड़ा तो ईमानदारी दिखाइए
कलेक्टर ने जब प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सारागांव का आकस्मिक निरीक्षण किया तो उन्हें यहां भी चिकित्सक सहित अन्य के विरुद्ध समय पर अस्पताल नहीं आने की शिकायत मिली। कलेक्टर ने मौके पर मेडिकल अफसर को निर्देशित किया कि आप और आपका स्टॉफ समय पर आना सुनिश्चित करें। यहां ओपीडी की संख्या बहुत कम होने पर कलेक्टर सिन्हा ने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि आपके क्षेत्र के लोग बीमार होकर निजी चिकित्सक के पास जा रहे हैं। शुल्क दे रहे हैं और दवाइयां भी पैसे देकर खरीद रहे हैं। जबकि शासकीय अस्पताल में आप जैसे प्रशिक्षित और काबिल चिकित्सक हैं। मुफ्त में दवाइयां दी जा रही है। आप लोग यदि समय पर अस्पताल आएंगे तो बीमारी का इलाज कराने इस क्षेत्र के लोग निजी डॉक्टर के पास क्यों जाएंगे। आप ईमानदारी दिखाइए। सेवा कीजिए और यहां के लोगों के लिए चिकित्सक के रूप में इलाज कर भगवान जैसा बनिए। कलेक्टर ने यहां टीकाकरण बढ़ाने के निर्देश भी दिए।
कांग्रेसी केवल एक दिन देते हैं दर्शन
जिनके नाम से बीडीएम अस्पताल है उनके बेटे भी साल में केवल एक दिन दिखाई पड़ते हैं। आने वाले दो दिनों में जिनके नाम से पुण्यतिथि मनाई जाएगी इस दिन न केवल चांपा के सैकड़ों कांग्रेसियों की यहां जमघट लगेगी बल्कि डॉक्टर महंत भी यहां दर्शन देंगे। शेष ३६४ दिनों में न तो यहां कोई कांग्रेसी नेता पहुंंचता और न ही कोई भाजपाई। २३ जुलाई को डॉक्टर बिसाहू दास महंत की पुण्यतिथि पर यहां पहले तो सभी डॉक्टर व स्टॉफ समय पर पहुंचेंगे तो वहीं यहां सैकड़ों की तादात में कांग्रेसी मौजूद रहेंगे। क्योंकि इस दिन विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरण दास महंत मौजूद रहेंगे। सभी अपनी फोटोग्राफी लेंगे। फिर दूसरे दिन से वही पुराना ढर्रा शुरू हो जाएगा।
निजी क्लीनिक वालों की चांदी
जिले में चांपा को मेडिकल हब का दर्जा दिया गया है। यहां दर्जनों नर्सिंग होम के अलावा बड़े से बड़े डॉक्टरों की क्लीनिक है। यहां तक कि जो बीडीएम में सेवा दे रहे हैं उनकी भी क्लीनिक संचालित है। यहां के डॉक्टर पहले अपनी क्लीनिक में सेवा देते हैं फिर बीडीएम अस्पताल पहुंचते हैं। जिसके चलते मरीजों को बीडीएम में देखने वाला कोई नहीं होता। जिसके चलते मरीजों को बीडीएम से मोहभंग हो जाता है।
पोस्टमार्टम के लिए भी करनी पड़ती है ११ बजे का इंतजार
सबसे बड़ी विडंबना यह है कि आसपास में जब भी कभी दुर्घटन हो जाती है कि शव का पोस्टमार्टम बीडीएम में किया जाता है। बीडीएम के डॉक्टर जब साढ़े १० बजे यहां पहुंचते हैं और पोस्टमार्टम की तैयारी करते हैं तब तक मृतक के परिजनों को ११ बजे तक इंतजार करना पड़ता है। जिसके चलते बीडीएम अस्पताल भी पूरी तरह से बदनाम हो चुका है।
-------------------
कलेक्टर पहुंचे बीडीएम दौरे पर तो नहीं मिले धरती के भगवान, कहा लूज मोशन के हो गए थे शिकार
calrctore ne kiya nirikashan

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

श्रीनगर में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, एक आतंकी को लगी गोली, जवान भी घायल38 साल बाद शहीद लांसनायक चंद्रशेखर का मिला शव, सियाचिन ग्लेशियर की बर्फ में दबकर हो गए थे शहीदराष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का देश के नाम संबोधन, कहा - '2047 तक हम अपने स्वाधीनता सेनानियों के सपनों को पूरी तरह साकार कर लेंगे'पंजाब में शुरु हुई सेहत क्रांति की शुरुआत, 75 'आम आदमी क्लीनिक' बन कर तैयार, देश के 75वें वर्षगांठ पर हो जाएंगे जनता को समर्पितMaharashtra: सीएम शिंदे की ‘मिनी’ टीम में हुआ विभागों का बंटवारा, फडणवीस को मिला गृह और वित्त, जानें किसे मिली क्या जिम्मेदारीलाखों खर्च कर गुजराती युवक ने तिरंगे के रंग में रंगी कार, PM मोदी व अमित शाह से मिलने की इच्छा लिए पहुंचा दिल्लीशेयर मार्केट के बिगबुल राकेश झुनझुनवाला की मौत ऐसे हुई, डॉक्टर ने बताई वजहBJP ने देश विभाजन पर वीडियो जारी कर जवाहर लाल नेहरू पर साधा निशाना, कांग्रेस ने किया पलटवार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.