किराए के मकान में फांसी के फंदे पर मिली महिला आरक्षक की लाश, हुई थी लव मैरिज

Lady constable suicide: सुबह ड्यूटी खत्म कर जब पति (Suicide after love marriage) घर पहुंचा तो बीवी को फांसी के फंदे लटका देख होश उड़ (Crime in janjgir) गया

रायपुर/जांजगीर-देवरी. लव मैरिज (Love marriage) के 8 साल बाद महिला आरक्षक ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। (Lady constabel suicide) महिला की लाश पुलिस ने दोपहर उसके किराए के मकान से बरामद (Janjgir police) की। जांजगीर चांपा जिले के सारागांव में पदस्थ महिला की पोस्टिंग डायल 112 में थी। पति भी डायल 112 में आरक्षक है। (Woman constable suicide) सुबह ड्यूटी खत्म कर जब पति (Suicide after love marriage) घर पहुंचा तो बीवी को फांसी के फंदे लटका देख होश उड़ (Crime in janjgir) गया। इसके बाद मामले की सूचना पुलिस (Crime in chhattisgarh) को दी।

हुई थी लव मैरिज


मिली जानकारी के अनुसार करौवाडीह जैजैपुर निवासी सनी जोशी से प्यार होने के बार 2011 में रानू धु्रर्वे ने शादी कर ली। इसके बाद दोनों जांजगीर आ गए थे। हंसी खुशी जिंदगी चल रही थी। लेकिन आज्ञात कारणों के चलते महिला आरक्षक रानू धु्रर्वे ने फांसी कर ली। उनका एक 6 साल और एक डेढ़ साल का बेटा है। परिवार सारागांव में ही किराए के मकान में रहता है। सनी की मां और पिता भी यहीं रहते थे। कुछ दिन पहले ही वे लोग करौवाडीह वापस गए हैं।

पति घर पहुंचा तो..

बताया जा रहा है कि महिला आरक्षक रानू धुर्वे ड्यूटी पर थीं। दोपहर 12 बजे के आसपास रानू के पास किसी का फोन आया तो वह थाने से घर आ गईं। इसके बाद वापस नहीं लौटीं। वहीं, पति सनी की ड्यूटी सुबह 6 बजे से दोपहर 2 बजे तक थी। जब वह अपने घर पहुंचा तो यहां रानू की लाश फांसी के फंदे पर लटकी मिली। बीवी की मौत देखकर पति के पैरो तले जमीन ही खिसक गई। आरक्षक ने इसकी सूचना एएसपी मधुलिका सिंह सारागांव को दी। एएसपी ने मृतक की मां से फोन पर भी बात कर घटना की जानकारी दी तथा प्रारंभिक पूछताछ की। कारणों का पता नहीं चला है।

सामने आई ऐसी बात

प्रारंभिक जानकारी में ये बात सामने आई है कि आरक्षक रानू ने एक माह की छुट्टी लेकर अपने बच्चों के साथ थी। इस दौरान अपने परिचितों के साथ घूमने मनाली गई थी। वहां से लौटने के बाद पति और पत्नी के बीच विवाद शुरू हो गया। वहीं, स्टाफ लोगों में ये चर्चा है कि आरक्षक रानू अपने घर की परेशानियों को लोगों से चर्चा की है। फिलहाल पुलिस ने अभी तक कुछ भी स्पष्ट नहीं किया है।


इस मामले में जांच के लिए एएसपी को भेजा गया था, पति-पत्नी के बीच कुछ बात हुई होगी। कुछ दिनों पूर्व आरक्षक छुट्‌टी में गई थीं। अभी क्लियर नहीं हो पाया है कि आखिर उसने फांसी क्यों लगाई। मामले की जांच के बाद ही पता चलेगा।
पारूल माथुर, एसपी, जांजगीर-चांपा

Show More
चंदू निर्मलकर Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned