महानगरों की तर्ज पर जांजगीर में बनेगा ड्रेनेज सिस्टम, छोटी नालियों का पानी जाएगा बड़ी नाली में

Rajkumar Shah

Publish: Jan, 13 2018 04:11:26 (IST) | Updated: Jan, 13 2018 04:18:33 (IST)

Janjgir-Champa, Chhattisgarh, India

महानगरों की तर्ज पर अब जांजगीर में भी ड्रेनेज सिस्टम का निर्माण होगा। इसके लिए नगरीय प्रशासन मंत्री अमर अग्रवाल ने स्वीकृति दे दी है।

जांजगीर-चांपा. महानगरों की तर्ज पर अब जांजगीर में भी ड्रेनेज सिस्टम का निर्माण होगा। इसके लिए नगरीय प्रशासन मंत्री अमर अग्रवाल ने स्वीकृति दे दी है। ड्रेनेज सिस्टम निर्माण के लिए जांजगीर शहर में सर्वे का काम शुरू हो चुका है। कोरबा के आकृति कंस्ट्रक्शन कंपनी द्वारा सर्वे का काम किया जा रहा है। सर्वे के बाद बजट तैयार किया जाएगा।


शहर के नालियों के गंदा पानी को सिस्टमेटिक शहर के बाहर भेजने के लिए महानगरों की तर्ज पर जांजगीर में भी ड्रेनेज सिस्टम को हरी झंडी मिल चुकी है। शहर के लोगों के लिए यह बड़ी सौगात है। अब तक होता यह था कि शहर के 25 वार्डों में छोटी व संकरी नालियों का निर्माण हुआ था। इन छोटी नालियों में शहर का गंदा पानी अव्यवस्थित होगर शहर के भीतर ही डंप हो जाता था।

बारिश के दिनों में यह गंदा पानी घरों में ही घुसता था। जिसके चलते शहर के लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता था। शहरवासियों को बेहद परेशानी होती है।

जिसे देखते हुए नगरीय प्रशासन मंत्री का दौरा हुआ तब शहर के लोगों ने ड्रेनेज सिस्टम की मांग की थी। जिसे मंत्री अमर अग्रवाल ने स्वीकृति प्रदान कर दी है। ड्रेनेज सिस्टम कितने की लागत से बनेगी यह अभी तय नहीं हुआ है। क्योंकि अभी सर्वे का काम चल रहा है।

कोरबा के आकृति कंस्ट्रक्शन कंपनी द्वारा सर्वे का काम किया जा रहा है। यह कंपनी सर्वे कर यह बताएगी कि कितने की लागत से ड्रेनेज सिस्टम बनेगा।

इसके बाद बजट प्रदान की जाएगी। इसके बाद काम शुरू होगा। हालांकि पहले सर्वे के लिए राजनांदगांव की कंपनी राजहंस को यह काम दिया गया था, जो काम शुरू नहीं कर पाई थी। इसके बाद आकृति कंस्ट्रक्शन कंपनी को यह काम दिया गया है। कंपनी के सर्वेयर काम शुरू कर दिया है।


यह मिलेगी सुविधा- शहर के 25 वार्डों में अत्यंत छोटी व संकरी नालियों का निर्माण किया गया है। यह नाली सिस्टमेटिक नहीं बन पाई है। जिसके चलते नाली का गंदा पानी शहर के भीतर ही रह जाता था। जिसके चलते शहर के लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता था।

अब इन्हीं छोटी नालियों का पानी ड्रेनेज में जाएगी। ड्रेनेज का पानी शहर के बाहर छोड़ा जाएगा। जिससे शहरवासियों को सुविधा का लाभ मिलेगा। हालांकि इस काम को अभी साल भर लगेगा। इसके बाद शहरवासियों के लिए यह सौगात मिलेगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned