कभी भी गिर सकते है सूख चुके पेड़, सड़क किनारे चल रहे राहगिरों को खतरा, आंधी चलने से तार पर गिरते ही छा जाता है अंधेरा

कभी भी गिर सकते है सूख चुके पेड़, सड़क किनारे चल रहे राहगिरों को खतरा, आंधी चलने से तार पर गिरते ही छा जाता है अंधेरा

Vasudev Yadav | Publish: Jun, 12 2019 09:50:40 PM (IST) Janjgir Champa, Janjgir Champa, Chhattisgarh, India

हरे भरे पेड़(Tree) यदि जिंदगी(life) देते हैं तो सूखे पेड़ जान भी ले सकते हैं। शहर में ऐसे कई जगह हैं, जहां सूखे दरख्त ऐसी घटनाओं को निमंत्रण देते खड़े हैं, लेकिन इस ओर ना तो वन विभाग(Forest department) और न ही नगर पालिका(Municipality) और न ही विद्युत विभाग(Electric department) ध्यान दे रहा।

जांजगीर-चांपा. सालभर में बड़ी संख्या में सूखे पेड़(Dried Trees) गिरने की घटनाएं हुई है। अभी भी बड़ी संख्या में शहर और आसपास के गांवों में बस्ती के बीच और सड़कों(Road) के किनारे सूखे पड़े(Dried Trees) है। बरसात(rain) में इन सूखे पेड़ो(Dried Trees) के गिरने का खतरा(Risk) बढ़ जाता है। बावजूद जिम्मेदार विभाग इन्हें कटवाने ध्यान नहीं दे रहे है।
हरे भरे पेड़ यदि जिंदगी देते हैं तो सूखे पेड़ जान भी ले सकते हैं। शहर(City) में ऐसे कई जगह हैं, जहां सूखे दरख्त ऐसी घटनाओं(Accident) को निमंत्रण देते खड़े हैं, लेकिन इस ओर ना तो वन विभाग(Forest department) और न ही नगर पालिका(Municipality) और न ही विद्युत विभाग(Electric department) ध्यान दे रहा। वर्तमान में प्री मानसून(Pre monsoon) की स्थिति निर्मित हो रही है और इस दौरान चलने वाली तेज हवाओं से ये पेड़(Tree) कभी भी धराशायी हो सकते हैं। शहर समेत जिलेभर में मुख्य मार्ग के किनारे सूखे दरख्तों(Dry drizzle) की भरमार है। शहर में कई स्थानों पर बड़े-बड़े सूखे पेड़ खड़े हैं। अंधड़ चलने से इन सूखे दरख्तों के कारण कभी भी कोई बड़ा हादसा(Accident) हो सकता है। नगर पालिका प्रशासन(Municipal administration) का इस ओर ध्यान नहीं है। अब अंधड और बारिश का मौसम(Weather) करीब है। ऐसे में सूखे दरख्तों से हादसों(Accident) का खतरा भी बढने लगा है। इन दिनों के मौसम में उतार-चढ़ाव जारी है। अचानक मौसम में बदलाव आने के साथ-साथ तेज हवाओं के साथ बारिश(Rain) शुरू हो जाती है। ऐसे मौसम(Weather) में इन दरख्तों के गिरने का खतरा ज्यादा बढ़ जाता है। ये पेड़ कभी भी सड़क पर गिर सकते हैं, जिससे सड़क पर आने-जाने वाले राहगीरों को क्षति भी हो सकती है।

कहां-कहां खतरा
शहर के चांपा रोड(Champa Road) में पेट्रोल पंप के पास ऐसा ही एक सूखा पेड़ खड़ा है। यह पेड़ कभी भी तेज हवाओं के चलने के साथ सड़क पर गिर सकता है। हीरो एजेंसी के ठीक सामने एक पेड़ पूरी तरह सूख चुका है। इसके आसपास विद्युत तार(Electric wire) फैला हुआ है। अंधड़ चलने से यह कभी भी विद्युत तार(Electric wire) पर गिर सकता है। नहर पुल के ठीक नीचे की ओर जाने वाले मार्ग में सड़क के किनारे एक सूखा दरख्त दुर्घटनाओं(Accident) को आमंत्रित कर रहा है। इसी तरह इंदिरा नगर प्री-मैट्रिक बालिका छात्रावास(Indira Nagar Pre-Matric Child's Hostel) के बाउंड्री के अंदर लगे सूखे पेड़ से भी खतरा(Risk) है।

जिम्मेदारों का नहीं ध्यान
शहर में खड़े सूखे दरख्तों को देखकर लोग कभी भी कोई दुर्घटना(Accident) होने की आशंका व्यक्त करते हैं। सड़क(Road) के किनारे खड़े ऐसे पेड़ों की ओर न तो नगर पालिका का ध्यान जाता और न ही विद्युत विभाग(Electric department) का। नगर पालिका(Municipality) और वन विभाग(Forest department) को इस ओर ध्यान देकर ऐसे सूखे दरख्तों की समय रहते कटाई(Harvesting) करानी चाहिए। सड़क किनारे(road side) सूखे हुए पेड़ के आसपास 33 केव्ही का तार भी गुजरा हुआ है। आजकल हर रोज शाम के समय अंधड़ चल रही है, कभी भी सूखे दरख्त विद्युत तार पर गिर सकते हैं। विद्युत विभाग को भी सूखे दरख्त की ओर ध्यान देना चाहिए ताकि तेज हवाओं के चलने से कोई हादसा(Accident) न हो सके।

वर्सन
शहर में निरीक्षण कर सूख चुके पेड़ों को काटा जाता है। बिजली विभाग द्वारा भी इस प्रकार के पेड़ों की कटाई की जाती है। अभी तो फिलहाल सूखे दरख्त की जानकारी नहीं है। जानकारी के बाद अब सूखे हुए पेड़ों को कटवाया जाएगा।
पीएन पटनायक, सीएमओ, जांजगीर-नैला

वर्सन
बरसात पूर्व मेंटनेंस का काम किया जाता है। जिसमें विद्युत तार के आसपास सूखे पेड़ों की डगाली को काटा जाता है। विद्युत तार के आसपास के पेड़ों को काटने का काम शुरू हो चुका है। अब 11 केव्ही के आसपास के पेड़ों की कटाई छंटाई का काम जल्द शुरू करेंगे।
बीके खांडेकर, एई, सीएसईबी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned