scriptFood safety officer took sample of cold drink and sugarcane juice | खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने लिया कोल्डडिं्रक व गन्ना रस का सेंपल | Patrika News

खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने लिया कोल्डडिं्रक व गन्ना रस का सेंपल

खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने शहर में गन्ना रस का सैंपल आखिरकार लिया। पत्रिका में खबर प्रकाशित के बाद खाद्य सुरक्षा अधिकारी शहर में निकले और करीब दर्जन भर गन्ना रस दुकान में जाकर निरीक्षण किया गया। इसमें से तीन दुकानों में सेंपल लिया गया।

जांजगीर चंपा

Published: April 29, 2022 08:45:53 pm

सेंपल को रायपुर स्थित लैब भेजा गया है।
गर्मी शुरू होने के साथ ही गन्ना रस की दुकान हर चौक-चौराहे पर खुल गई है। दुकानों में पहली की तरह भीड़ भी उमड़ रही है, लेकिन इस बार दाम पहले से ज्यादा बढ़े हुए हैं, जिले में गन्ना रस दुकान में एक गिलास की कीमत 25 रुपए राहगीर खर्च कर रहे हैं, साल भर पहले गन्ना रस केवल 10 रुपए में मिल जाता था, लेकिन इस बार पूरे शहर में गन्ना रस 15 से 25 रुपए में मिल रहे हैं। जिम्मेदार खाद्य एवं औषधि विभाग जूस व गन्ना रस का क्वालिटी चेक के लिए एक बार भी सैंपल नहीं लिया था। सड़क किनारे लगे ठेले में गन्ना रस से ज्यादा बर्फ व पानी की मात्रा होती है। रेट बढऩे का कारण सीधे तौर अन्य सामानों का रेट बढऩा कह दिया जाता है। जिम्मेदार खाद्य एवं औषधि विभाग की टीम को गुणवत्ता को लेकर कार्रवाई करने की आवश्यकता है, लेकिन उनका ध्यान ही नहीं है। इसका खामियाजा भोले-भाले लोगों को भुगतना पड़ रहा है। गन्ना रस दुकान में गंदगी व मानक मात्रा तय होने की शिकायत लगातार पत्रिका को मिल रही थी। इसके बाद पत्रिका ने शहर का पड़ताल कर २८ अप्रैल के अंक में प्रमुखता से खाद्य एवं औषधि विभाग की अब तक नहीं खुली आंख, नहीं लिए जूस के एक भी सैंपल शीर्षक से खबर प्रकाशित किया गया। इसके बाद दूसरे दिन ही आखिरकार खाद्य सुरक्षा अधिकारी जागे और शहर के करीब दर्जन दुकानों जाकर निरीक्षण किया गया। खाद्य सुरक्षा अधिकारी अपर्णा आर्या निरीक्षण के दौरान साफ-सफाई के निर्देश संबंधित दुकान संचालक को दिए। साथ ही शिवम इंटरप्राइजेस ग्राम कुलीपोटा से सनशाइन एक्वा ड्रिकिंग वाटर, मां गन्ना रस कचहरी चौक, रितेश जूस सेंटर जिला पंचायत के सामने, गन्ना जूस सेंटर कलेक्टोरेट चौक का नमूना संकलन किया गया। खाद्य सुरक्षा अधिकारी अपर्णा आर्या ने जांजगीर में निरीक्षण कर सेंपल लेने व साफ-सफाई के निर्देश तो दिए। लेकिन दूसरा खाद्य सुरक्षा अधिकारी डीके देवांगन अभी भी नींद से नहीं जागे है। उनको जूस, व गन्ना रस दुकानों में जाकर जांच करने व सेंपल लेने के लिए फुर्सत ही नहीं है। उसका कहना है कि स्टाफ की कमी व बहुत ज्यादा काम होने की वजह से अभी नहीं ले पा रहे है, बाद में लिया जाएगा। जबकि भीषण गर्मी में लोग सबसे ज्यादा पसंद गन्ना रस व जूस को ही कर रहे हैं। इसी दुकानों में गर्मी के समय भीड़ देखी जा रही है। भीड़ ज्यादा होने से कई दुकान संचालक फायदा उठाकर अमानक स्तर के जूस परोस रहे है। जिससे लोग बीमारी के आगोश में आ रहे है।
health_benefits_of_moong_sprouts.jpg

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Crisis: क्या ज्योतिरादित्य सिंधिया के फॉर्मूले जैसा ही एकनाथ शिंदे गुट को लाने की तैयारी में बीजेपी, समझें क्या है पार्टी का प्लान बीMaharashtra Political Crisis: आदित्य को छोड़ शिवसेना के सारे MLA Minister हुए बागी, उद्धव ठाकरे के साथ बचे सिर्फ MLC मंत्रीPresidential Election: यशवंत सिन्हा ने भरा नामांकन, राहुल गांधी-शरद पवार समेत विपक्ष के कई बड़े नेता मौजूदPunjab Budget LIVE Updates: वित्तमंत्री हरपाल चीमा ने कहा- सभी जिलों में बनाए जाएंगे साइबर अपराध क्राइम कंट्रोल रूमपटना विश्वविद्यालय के हॉस्टलों में छापेमारी, मिला बम बनाने का सामानMumbai News Live Updates: मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बागी मंत्रियों के छीने विभागMaharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में क्या बन रहे हैं नए सियासी समीकरण? बागी एकनाथ शिंदे ने राज ठाकरे से की फोन पर बातचीतयशवंत सिन्हा को समर्थन देगी TRS, क्या BJP के खिलाफ विपक्ष से हाथ मिला रहे KCR?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.