scriptHow will the guideline be followed- Social distancing is not known, | कैसे होगा गाइडलाइन का पालन- सोशल डिस्टेसिंग का पता नहीं, मास्क तो चेहरों से गायब ही | Patrika News

कैसे होगा गाइडलाइन का पालन- सोशल डिस्टेसिंग का पता नहीं, मास्क तो चेहरों से गायब ही

कोरोना के मामले एक बार फिर से बढ़ रहे हैं जिसे चौथी लहर की शुरुआत भी बताई जा रही है। जिसके चलते एक बार फिर से बंदिशें लगनी शुरु हो गई है। मास्क और सोशल डिस्टेसिंग का दौर फिर से लौट आया है।

जांजगीर चंपा

Published: April 26, 2022 09:18:51 pm

जांजगीर-चांपा. जिला प्रशासन ने इसको लेकर गाइडलाइन भी जारी कर दिया है कि सार्वजनिक जगहों पर फेस मास्क पहनना और सोशल डिस्टेसिंग का पालन करना होगा। सार्वजनिक जगहों पर थूकना मना रहेगा। मगर कोविड गाइडलाइन को लेकर फिलहाल लोगों में कोई जागरुकता नहीं है। क्योंकि कोरोना की तीसरी लहर थमने के बाद जिस तरह केस कम हो गए हैं उससे लोगों ने गाइडलाइन को पूरी तरह से साइट कर दिया है। न तो लोगों के चेहरों पर अब कोई मास्क नजर आ रहा है और न ही भीड़भाड़ में कही सोशल डिस्टेसिंग का पालन हो रहा है। वहीं टीकाकरण की रफ्तार भी सुस्त पड़ गई है जो कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच अच्छा संकेत नहीं है।
एसडीएम और सीएमओ को जिम्मेदारी
जिला दंडाधिकारी एवं कलेक्टर जितेन्द्र कुमार शुक्ला ने सार्वजनिक स्वास्थ्य की सुरक्षा के उद्देश्य से जिले में सार्वजनिक स्थानों पर फेसमास्क पहनना और दुकानों,ब्यावसायिक संस्थानों में फिजिकल डिस्टैंसिंग का पालन अनिवार्य कर दिया है। सार्वजनिक स्थलों, कार्यालयों, अस्पतालों, बाजारों एवं भीड़-भाड़ वाले स्थानों, गलियों में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति द्वारा मास्क / फेस कवर पहनना अनिवार्य है। सभी शासकीय,निजी कार्यालयों, कार्य स्थलों एवं फैक्ट्री आदि में प्रत्येक व्यक्ति द्वारा मास्क / फेस कवर पहनना जरुरी है। सार्वजनिक स्थलों पर थूकना प्रतिबंधित होगा। होम क्वारेन्टाईन में रहने वाले व्यक्तियों को क्वारेन्टाईन संबंधी सभी निर्देश मानने होंगे। दुकानों, व्यावसायिक संस्थानों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग,फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। उपायों का पालन सुनिश्चित कराने सभी एसडीएम, नगरीय निकायों के सीएमओ को दिए हैं।
बूस्टर डोज लगाने भटक रहे लोग
इधर सरकार ने १८ से ५९ आयु वर्ग के लोगों के लिए बूस्टर डोज केवल निजी सेंटरों में लगाने की व्यवस्था की है। लेकिन जिले में किसी भी निजी हॉस्पिटल द्वारा वैक्सीनेशन के लिए रुचि नहीं ली है। ऐसे में इन आयु वर्ग के लोग जिनका तीसरा डोज लगने का समय आ गया है उन्हें समझ नहीं आ रहा है वे कहां जाएं। क्योंकि सरकारी हॉस्पिटल में बूस्टर डोज लगना बंद है और प्राइवेट में कहीं लग नहीं पा रहा है। इधर कोरोना की चौथी लहर की आशंका जताई जा रही है जिससे बूस्टर डोज लगवाने लोग चाह रहे हैं। क्योंकि एक निश्चित समय के बाद वैक्सीन का असर भी कम होने की बात कही जा रही है।
कैसे होगा गाइडलाइन का पालन- सोशल डिस्टेसिंग का पता नहीं, मास्क तो चेहरों से गायब ही
नपा कार्यालय परिसर में कोविड गाइडलाइन जमीन पर धूल खा रही है

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: खतरे में MVA सरकार! समर्थन वापस लेने की तैयारी में शिंदे खेमा, राज्यपाल से जल्द करेंगे संपर्क?Maharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे की याचिका पर SC ने डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस और केंद्र को भेजा नोटिस, 5 दिन के भीतर जवाब मांगाMaharashtra Political Crisis: सुप्रीम कोर्ट से शिंदे खेमे को मिली राहत, अब 12 जुलाई तक दे सकते है डिप्टी स्पीकर के अयोग्यता नोटिस का जवाबPM Modi in Germany for G7 Summit LIVE Updates: 'गरीब देश पर्यावरण को अधिक नुकसान पहुंचाते हैं, ये गलत धारणा है' : G-7 शिखर सम्मेलन में बोले पीएम मोदीयूक्रेन में भीड़भाड़ वाले शॉपिंग सेंटर पर रूस ने दागी मिसाइल, 2 की मौत, 20 घायल"BJP से डर रही", तीस्ता की गिरफ़्तारी पर पिनाराई विजयन ने कांग्रेस की चुप्पी पर साधा निशानाअंबानी परिवार की सुरक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट कल करेगा सुनवाई, जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शिवसैनिकों से बोले आदित्य ठाकरे- हम दिल्ली में भी सत्ता में आएंगे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.