Video - दबंगों की दबंगई, सरकारी भूमि पर कब्जा कर धड़ल्ले से कर रहे खरीदी-बिक्री, पट्टा के नाम पर किया जाता है गुमराह

Shiv Singh | Publish: Sep, 07 2018 01:23:18 PM (IST) Janjgir-Champa, Chhattisgarh, India

शिकायत के बावजूद जिला प्रशासन के सुस्त रैवये से राछाभाठा स्तिथ सैकड़ों एकड़ शासकीय भूमि पर दिनों दिन मकान बनाकर बेचने का खुला खेल चल रहा है।

नवागढ. यूं तो सरकार द्वारा सरकारी जमीन को सुरक्षित रखने के लिए तरह तरह के हथकंडे अपना रहे है, किसी भी तरह से शासकीय जमीन सुरक्षित रहे और बेजाकब्जा से बचाया जा सके, लेकिन इसका ताजा उदारहण नवागढ स्तिथ नगर पंचायत में देखने को मिल रहा है जहां दबंगों द्वारा शासकीय भूमि पर कब्जा कर बेचने का खुला खेल चल रहा है और शिकायत के बावजूद जिला प्रशासन के सुस्त रैवये से राछाभाठा स्तिथ सैकड़ों एकड़ शासकीय भूमि पर दिनों दिन मकान बनाकर बेचने का खुला खेल चल रहा है। स्थानीय दबंगों द्वारा सरकारी भूमि पर मकान बनाकर रातोंरात बेच दिया जाता है हालात ऐसे हैं कि नगर में निवास करने वाले आम लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

जब पत्रिका की टीम राछाभाठा पहुचीं तो स्थानीय व्यक्तियों द्वारा नाम छापने के शर्त में बताया गया कि कुछ स्थानीय दलालों द्वारा शासकीय भूमि को पट्टा बनाने के नाम से भी लोगों को गुमराह किया जाता है जिससे भोले भाले नगरवासी दलालों के चंगुल में फंस जाते हैं और दलालों के द्वारा खाली शासकिय भूमि को बेचा जाता है और पुन: उसी से मकान बनाकर देने की बात कहकर मोटी रकम वसूल कर रातोंरात मकान बनाकर दिया जाता है।

Read More : किसानों ने सहकारी बैंक चांपा शाखा प्रबंधक पर लगाया ये आरोप, कार्रवाई नहीं होने से नाराज हैं किसान

लगातार शिकायत होने के बावजूद करवाई नहीं होने से दलालों के हौसले इतने बुलंद है कि कहीं भी शासकीय भूमि को बेचने के लिए तैयार है। धड़ल्ले से हो रहे बेजाकब्जा को देखते हुए अन्य नगरवासियों को लगातार परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। दलालों के पहुँच के सामने प्रशासन के समस्त नियम कानून बौनी नजर आ रही है दलालों द्वारा दबंगई पूर्वक शासकीय भूमि पर खरीदी बिक्री का खुला खेल चल रहा है।

पट्टा का दिया जाता है झांसा
स्थानीय दलालों द्वारा ज़मीन खरीदी बिक्री करते समय राजस्व अधिकारियों से रिश्तेदारी की बात कहकर पट्टा बनाकर देने का झूठा वादा किया जाता है और शासकीय भूमि को दिनदहाड़े मकान बनाकर बेचकर दिया जाता है।

सड़क किनारे जानलेवा गड्ढे मवेशी को हुई आफत
राछाभाठा नवागढ मेन रोड में दलालों द्वारा मनमानी करते हुए सड़क किनारे का मुरुम मिट्टी जेसीबी से निकाल कर ऊंची दामो में बेचा जाता है और सड़क किनारे बड़े-बड़े गड्ढे खोदकर खुला छोड़ दिया जाता है जिससे सड़क में आने जाने वाले आम लोगों द्वारा गड्ढे में गिरकर हादसे का शिकार हो जाते है और सबसे बड़ी परेशानी तो तब होती है जब मवेशी गड्ढे में गिर जाने के कारण उनकी मौत हो जाती है।

दलालों से सांठ-गांठ कर आंख मूंदे बैठे हैं राजस्व अफसर
सरकार द्वारा सरकारी भूमि को सुरक्षित करने के लिए लाल झंडे लगवा रही है। वही जिले में स्तिथ नवागढ विकासखंड में राजस्व अधिकारी शासन के समस्त नियम कानून को धज्जियां उड़ाते हुए दलालों से सांठगांठ कर बेजाकब्ज़ा कर मकान बनाकर बेच रहे उसमे कार्यवाही करने से बच रहे है।

Ad Block is Banned