बदहाल ट्रैफिक : आठ किमी के सफर में लग रहा एक घंटा

जिला मुख्यालय जांजगीर और चांपा में यातायात व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। सुबह से शाम तक कई बार जाम लग रहा है, जिसके कारण लोग आवागमन करने परेशान हैं।

By: Piyushkant Chaturvedi

Published: 26 Jun 2016, 03:02 PM IST

जांजगीर-चांपा. जिला मुख्यालय जांजगीर और चांपा में यातायात व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। सुबह से शाम तक कई बार जाम लग रहा है, जिसके कारण लोग आवागमन करने परेशान हैं। खासकर बिर्रा फाटक के पास से निकलने में ही आधा से एक घंटे का समय लग जा रहा है। जिला मुख्यालय जांजगीर से चांपा की दूरी महज आठ किमी है, लेकिन इस दूरी को तय करने में ही एक घंटा लग जा रहा है। इसकी प्रमुख वजह समय-बेसमय लगने वाला अघोषित जाम है। खोखसा फाटक पर बीते एक साल से ओवरब्रिज निर्माणाधीन है।

राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित फाटक पर हर समय दबाव रहता है। चौबीसों घंटे इस मार्ग से हजारों की संख्या में वाहनों की आवाजाही होती है। ब्रिज निर्माण से पहले वाहनों की आवाजाही के लिए पुख्ता व्यवस्था नहीं की गई। बमुश्किल २० फीट की सड़क से दो पहिया, चार पहिया व भारी वाहन आवागमन कर रहे हैं। फाटक बंद होने की स्थिति में दोनों ओर वाहनों की लंबी लाइन लग जाती है। जब फाटक खुलता है तो पहले निकलने की होड़ में लोग अपने वाहनों को सामने अड़ा देते हैं। इस कारण जाम की स्थिति निर्मित हो रही है।

दो पहिया वाहन किसी तरह निकल जाता है, लेकिन चार पहिया व भारी वाहन घंटों जाम में फंसे रहते हैं। जब यातायात पुलिस व्यवस्था बनाती है, तब यातायात बहाल होता है। इस तरह की समस्या रोज सुबह से शाम तक निर्मित हो रही है। जब तक ब्रिज का निर्माण पूरा नहीं हो जाता, समस्या बनी रहेगी।
Piyushkant Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned