दो सूत्रीय मांगों को लेकर मजदूर संघ ने कंपनी प्रबंधन का किया पुतला दहन

दो सूत्रीय मांगों को लेकर मजदूर संघ ने कंपनी प्रबंधन का किया पुतला दहन
दो सूत्रीय मांगों को लेकर मजदूर संघ ने कंपनी प्रबंधन का किया पुतला दहन

Vasudev Yadav | Updated: 09 Oct 2019, 12:56:50 PM (IST) Janjgir Champa, Janjgir Champa, Chhattisgarh, India

35 मजदूरों को निकालने व न्यूनतम सैलरी 17 करने की मांग को लेकर प्लांट मजदूर संघ कर रहे आंदोलन

जांजगीर-चांपा. अपने दो सूत्रीय मांगों को लेकर केएसके प्लांट के खिलाफ मजदूर संघ चरणबद्ध आंदोलन कर रहे है। इसी कड़ी सोमवार को कचहरी चौक जांजगीर में कंपनी प्रबंधन का पुतला दहन किया गया। इसके बाद बाद अपने मांगों का ज्ञापन कलेक्टर के नाम तहसीलदार को सौंपा गया।
केएसके महानदी पावर प्लांट द्वारा 17 सितंबर को लॉक आउट कर दिया गया था। इसके बाद कलेक्टर की अगुवाई में श्रम कार्यालय में 18 सितंबर को त्रिपक्षीय वार्ता हुई थी। जिसमें तय हुआ था कि 5 दिन के अंदर प्लांट फिर से शुरू होगा। प्लांट प्रबंधन द्वारा 25 सितंबर को लॉक आउट खोला गया। लेकिन में मजदूरों के बड़े 35 नेताओं को प्लांट प्रबंधन द्वारा निकाल दिया गया। लॉक के पहले मजदूरों को न्यूनतम 17 हजार सैलरी व एक अनिवार्य प्रमोशन का प्लांट प्रबंधन ने इलाज किया था। प्लांट खुलने के बाद मजदूर 37 मजूदरों को निकाल दिया गया इसके अलावा न्यूनतम १७ हजार सैलरी के एलान की बात को भी पूरा नहीं किया जा रहा है। जिससे एचएमएस मजदूर संघ लगातार आंदोलन कर रहे है। इसी क्रम में सोमवार को मजदूर संघ कचहरी चौक में कंपनी प्रबंधन का पुतला दहन किया गया और कलेक्टर के नाम तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा गया। जल्द से जल्द हमारी मांगों को पूरा करने की बात कही गई। इस अवसर पर संघ के अध्यक्ष विश्वनाथ साहू, रवि नोरगे, रामकृष्ण धीवर, मूलचन्द नोरगे, रामनाथ कंेवट, सतीश बर्मन, अशोक राठौर, दाऊलाल लहरे, पारस दुबे, अमित कुर्रे, मनोज साहू, अविनाश महिपाल, रघुराज निर्मलकर, संजू नोरगे, योगेश निर्मलकर, राजेंद्र साहू, अजय कुर्रे, रामकुमार राठौर, गजेंद्र पुरी, प्रदीप टण्डन, गणेश लहरे आदि शामिल रहे।

READ MORE :
मांग पूरा नहीं होने पर किया जाएगा उग्र आंदोलन
संघ के महामंत्री शेरसिह राय ने बताया कि 11 अक्टूबर को श्रम कार्यालय में दोपहर 12 बजे बैठक रखी गई है। जिसमें कंपनी प्रबन्धन मजदूरों को प्लांट प्रवेश के लिए सहमत नहीं देगी तो आगे उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य हो जाएंगे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned