भारत में बौद्धिक संपदा के लिए जागरूक होना आवश्यक : प्रो. गुप्ता

शासकीय महाविद्यालय, नवागढ़ के तत्वाधान में राष्ट्रीय व्याख्यानमाला सृखला कार्यक्रम के अंतर्गत राष्ट्रीय अतिथि व्याख्यान कार्यक्रम का आयोजन

By: Rajkumar Shah

Published: 10 Feb 2018, 05:58 PM IST

जांजगीर-चाम्पा. जिला अंतर्गत नवीन शासकीय महाविद्यालय, नवागढ़ के तत्वाधान में राष्ट्रीय व्याख्यानमाला सृखला कार्यक्रम के अंतर्गत राष्ट्रीय अतिथि व्याख्यान कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मुख्यवक्ता के रूप में नागालैण्ड केन्द्रीय विश्वविद्यालय,

कोहिमा के प्रो. वाईस चांसलर प्रो. रमेश चंद्र गुप्ता उपस्थित हुए। च्च्एडवांसेस इन मेडिसिनल केमिस्ट्री एण्ड ड्रग डेवेलोपमेन्टज्ज् विषय पर उन्होंने कहा कि आज मानव जीवन के हर क्षण एवं पल में रसायन विज्ञान के अवदान का बोलबाला है। रसायन विज्ञान अपने एडवांस स्वरूप में मानव जीवन के हर क्षेत्र को प्रभावित करता है तथा मानव जीवन को खुशहाल बनाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इन्होंने बौद्धिक सम्पदा के अधिकार अधिनियम की चर्चा करते हुए कहा कि भारत में बौद्धिक सम्पदा संरक्षण के लिए सभी को जागरूक होना आवश्यक है।

उन्होंने कहा कि हमारे भारत में अनेक ऐसे पारम्परिक ज्ञान एवं अविस्कार है जिनका उपयोग हम अदिकाल से करते आ रहे हैं परन्तु उसका पेटेन्ट आज विदेशियों के हाथ में होने के कारण उसकी रायल्टी का वित्तीय लाभ एवं अधिकार को श्रेय उन्हें मिल रहा है।

उन्होंने कहा कि इन्ही कारणों से आज उच्चशिक्षा के क्षेत्र में शोध, अन्वेषण, नवाचार, पेटेटिंग एवं कॉपीराईट अवेयरनेस को महत्व दिया जा रहा है एवं इसके लिए उन्होंने नये पढ़े लिखे युवाओं को आगे आने का आह्वान किया । कार्यक्रम की अध्यक्षता प्राचार्य बी.के. पटेल ने की। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि के रूप में जवाहर लाल नेहरू महाविद्यालय, नवागढ़ के प्राचार्य सी.आर. कैवर्त विशेष रूप से उपस्थित थे।

कार्यक्रम का संचालय प्रो. शिवकुमार बंजारे तथा प्रो. नारायण सावरकर ने किया। इस अवसर पर प्राचार्य प्रो.बी.के. पटेल तथा महाविद्यालय के प्राध्यापकों द्वारा प्रो. आर.सी. गुप्ता को च्च्सम्मान-पत्रज्ज् (फेलिसिटेशन) भेंट किया गया। छात्रगण कु. कोमल, कु. नेहा, कु. निशा तथा कु. ज्योति ने सरस्वती वंदना तथा अतिथि सम्मान गीत प्रस्तुत किए।

इस आवसर पर समस्त छात्र-छात्राओं, नगर के गणमान्य नागरिक, रासेयो के चयनित स्वयं सेवकगण तथा क्षेत्र के प्राध्यापकगण एवं विद्धतजन उपस्थित थे। कार्यक्रम आयोजन में डॉ. व्ही.आर. लोहनी, प्रो. एन.आर. सावरकर, प्रो. शिवकुमार बंजारे, प्रो. सी.के. कुर्रे, प्रो. प्रेमलता कश्यप, प्रो. आशा आदित्य, दिनेश सोमावार, राजेश यादव, दुर्गेश यादव, श्रीमती निर्मला साहू, ऋषि देवांगन, छात्रसंघ अध्यक्ष नेहा राठौर, रासेयो स्वयं सेवकगण सतीश, अमित खुंटे, करन टण्डन, निशा लहरे इत्यादि का विशेष योगदान था। कार्यक्रम के अंत में धन्यवाद ज्ञापन प्राचार्य बी.के. पटेल ने किया।

Rajkumar Shah Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned