क्वारंटाइन सेंटर में दुधमुंहे बच्चे की मौत, एक दिन बाद होनी थी छुट्टी

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh Coronavirus Update) के जांजगीर-चांपा (Janjgir-Champa) जिले के मुलमुला थाना क्षेत्र के ग्राम ब्यासनगर के क्वारंटाइन सेंटर में एक माह के दुधमुंहे बच्चे (Baby dies in Quarantine) की मौत हो गई।

By: Ashish Gupta

Published: 26 Jun 2020, 07:56 PM IST

जांजगीर-चांपा. छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले के मुलमुला थाना क्षेत्र के ग्राम ब्यासनगर के क्वारंटाइन सेंटर में एक माह के दुधमुंहे बच्चे (Baby dies in Quarantine) की मौत हो गई। मासूम की मौत की वजह दूध फेफड़े में भर जाना बताया जा रहा है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पुलिस के अनुसार नंदेली ग्राम पंचायत अंतर्गत ब्यासनगर हाई स्कूल के क्वारंटाइन सेंटर में धरदेई के धर्मेंद्र केंवट अपनी पत्नी व बच्चों के साथ लखनऊ से लौटकर ठहरे हुए हैं। प्रवासी श्रमिकों का शुक्रवार को 13वां दिन था। शनिवार को ही उनकी छुट्टी होनी थी, लेकिन क्वारंटाइन सेंटर मासूम के लिए मौत का कब्रगाह बन गया।

दरअसल, मासूम की मां शुक्रवार की सुबह 6 बजे उसे दूध पिलाई। दूध पीने के बाद मासूम सो गई। एक घंटे बाद उसकी मां बच्चे को उठाना चाही, लेकिन मासूम हमेशा के लिए सोई रह गई। परिजनों ने मामले की सूचना पुलिस व स्वास्थ्य विभाग के लोगों को दी। स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने पहले मासूम का रैपिड टैस्ट किया, जिसमें रिपोर्ट निगेटिव आई। फिलहाल पुलिस परिजनों से पूछताछ कर रही है।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned