scriptPlants of 10 feet trees in the canal without water, repairs done in pa | बिन पानी के नहर में10-10 फीट के पेड़ पौधे, कागजों में हो गई मरम्मत | Patrika News

बिन पानी के नहर में10-10 फीट के पेड़ पौधे, कागजों में हो गई मरम्मत

नवागढ़ ब्लाक के माइनर नहरों में १०-१० फीट के पेड़ पौधे व घांस फूंस उग आए हैं। इधर सिंचाई विभाग कागजों में मरम्मत कर दी है। ऐसे में किसानों के माथे में इस बात की चिंता की लकीरें उभर आई है कि आखिर उन्हें १० जुलाई के बाद सिंचाई सुविधा के लिए पानी कैसे मिलेगी।

जांजगीर चंपा

Published: June 27, 2022 09:42:14 pm

जांजगीर-चांपा। इधर, ग्रामीणों ने नहर में साफ-सफाई के लिए कार्यपालन अभियंता से अपनी मांगों का ज्ञापन सौंपा है। नहरों की सफाई नहीं होने की स्थिति में चरणबद्ध आंदोलन की चेतावनी दी है।
महंत, धुरकोट, धनेली, कुटरा, मेहदा सहित आधा दर्जन गांवों में माइनर नहर की स्थिति बेहद खराब है। सालों से नहर की मरम्मत नहीं होने से गांव के किसान परेशान हैं। क्योंकि जिन नहरों के पानी से सिंचाई होती है उन्हीं नजरों में १०-१० फीट के पेड़ पौधे उग आए हैं। जिससे नहर से पानी टेल एरिया तक नहीं पहुंच पाता। जिसके चलते किसानों को दिया तले अंधेरा की कहावतों से जूझना पड़ता है। किसानों का कहना है कि इस समस्या से कई बार अनुविभागीय अधिकारी को ज्ञापन सौंप चुके हैं लेकिन एसडीओ इस दिशा में कारगर कदम नहीं उठाते। जिसका खामियाजा किसानों को भुगतना पड़ता है। ग्राम महंत के धु्रवेश सिंह ने इस संबंध में अधिकारियों को ज्ञापन सौंपकर बता चुके हें। महंत माइनर नहर क्रमांक ४ में गोसाई तालाब से घुठिया मार्ग लगभग लंबाई १८४० मीटर तक नहर की स्थिति बेहद खराब है।
85 हेक्टेयर कृषि क्षेत्र में नहीं पहुंचता पानी
क्षेत्र के लगभग ८५ हेक्टेयर कृषि रकबे में ढंग से सिंचाई नहीं हो पाती। जिसके चलते किसानों को सूखे की मार का सामना करना पड़ता है। टेल एरिया में किसानों को पानी नहीं मिलने से किसानों के बीच सिर फुटौव्वल की स्थिति निर्मित होती है। किसानों ने बताया कि विगत २० वर्षों से नहर की मरम्मत नहीं हो पाई है। जिसके चलते किसानों को सूखे की मार झेलनी पड़ रही।
सूचना के अधिकार की भी नहीं दे रहे जानकारी
महंत के किसान धु्रवेश सिंह ने बताया कि उन्होंने १८ जनवरी २०२२ को सूचना के अधिकार के तहत जानकारी मांगी थी कि विगत १५ वर्षों में नहर की कितनी बार मरम्मत कराई गई। यदि मरम्मत कराई गई तो कितने बार कराई गई। मरम्मत का कार्य किस ठेकेदार ने कराया और कितनी राशिक खर्च की गई। इन सभी ८ बिंदुओं पर जानकारी मांगी गई लेकिन आज तक इस संबंध में किसी ने जवाब नहीं दिया। इस संबंध में पत्रिका ने २७ जून को संबंधित क्षेत्र के एसडीओ डीएल खूंटे को फोन से उनका पक्ष जानना चाहा लेकिन फोन नहीं उठाना उनके आदतों में सुमार है। आज तक न किसी कर्मचारियों का फोन उठाते और न ही किसी मीडिया पर्सन का।
बिन पानी के नहर में10-10 फीट के पेड़ पौधे, कागजों में हो गई मरम्मत
बिन पानी के नहर में10-10 फीट के पेड़ पौधे, कागजों में हो गई मरम्मत

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

14 अगस्त स्मृति दिवस: वो तारीख जब छलनी हुआ भारत मां का सीना, देश के हुए थे दो टुकड़ेआरएसएस नेता इंद्रेश कुमार का बड़ा बयान, बापू की छोटी सी भूल ने भारत के टुकड़े करा दिएHimachal Pradesh: जबरदस्ती धर्म परिवर्तन करवाने पर होगी 10 साल की जेल, लगेगा भारी जुर्मानाDGCA ने एयरपोर्ट पर पक्षियों के हमले को रोकने के लिए जारी किया दिशा-निर्देश'हर घर तिरंगा' अभियान में शामिल हुई PM नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन, बच्‍चों के संग फहराया राष्‍ट्रीय ध्‍वज7,500 स्टूडेंट्स ने मिलकर बनाया सबसे बड़ा ह्यूमन फ्लैग, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ नामबिहारः सत्ता गंवाते ही NDA के 3 सांसद पाला बदलने को तैयार, महागठबंधन में शामिल होने की चल रही चर्चा'फ्री रेवड़ी ' कल्चर व स्कूल के मुद्दे पर संबित्र पात्रा ने AAP को घेरा, कहा- 701 स्कूलों में प्रिंसिपल नहीं, 745 स्कूलों में नहीं पढ़ाया जाता विज्ञान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.