Video- आखिर क्यों खंडहर हो चुके पुराना जिला अस्पताल को सुपर स्पेशलिटी अस्पताल की तर्ज पर किया जा रहा चकाचक, पढि़ए खबर...

Video- आखिर क्यों खंडहर हो चुके पुराना जिला अस्पताल को सुपर स्पेशलिटी अस्पताल की तर्ज पर किया जा रहा चकाचक, पढि़ए खबर...

Shiv Singh | Publish: Sep, 10 2018 07:51:39 PM (IST) Janjgir-Champa, Chhattisgarh, India

- लाखों खर्च कर किया जा रहा रंग रोगन

जांजगीर-चांपा। 22 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जांजगीर आएंगे या नहीं लेकिन उनके आगमन की तैयारी को लेकर खंडहर हो चुके पुराना जिला अस्पताल को सुपर स्पेशलिटी अस्पताल की तर्ज पर संवारा जा रहा है। खंडहर को रंग रोगन कर जहां ट्रामा सेंटर की तरह आपरेशन थिएटर बनाया जा रहा। बियाबान अस्पताल के हर कमरे की डेंटिंग पेटिंग कर दुल्हन की तरह सजाया जा रहा है। यह सब खर्च आयुष्मान भारत योजना के तहत किया जा रहा है।

दरअसल जिले के एक दर्जन से अधिक अस्पतालों को सरकार को आयुष्मान भारत योजना के तहत हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर बनाया जा रहा है। ऐसे अस्पतालों में वह सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी जो एक अस्छे अस्पताल में मरीजों को उपलब्ध कराई जाती है। इसके लिए नैला के अस्पताल समेत कई प्रत्येक ब्लाक में दो से तीन अस्पतालों को चयन किया गया है। सबसे खास बात यह है कि 22 सितंबर को जांजगीर में चुनावी दौरा होना तय है।

 

 

उनके आगमन की लेकर एक सुपर स्पेशलिटी अस्पताल का होना जरूरी है। क्योंकि दुर्भाग्य से उन्हें किसी तरह की परेशानी न हो जिससे निपटने के लिए एक सुपर स्पेशलिटी अस्पताल उनकी सभा के करीब होना जरूरी है। ताकि उन्हें गहन चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जा सके। जिसे देखते हुए पुराने जिला अस्पताल को सुपर स्पेशलिटी अस्पताल की तर्ज पर चकाचक किया जा रहा है। खंडहर हो चुके सौ साल पुरानी बिल्डिंग को नई बिल्डिंग की तरह बनाया जा रहा है।

पुरानी बिल्डिंग में केवल दीवार पुरानी है बाकी में प्लास्टर, पेंटिंग से लेकर लाइटनिंग नई है। यानी भवन के प्रत्येक कमरों को दुल्हन की तरह सजाया जा रहा है। ताकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वास्थ्य में कुछ खराबी आए तो उनकी इलाज भलीभांति हो सके।

आखिर क्यों खंडहर हो चुके पुराना जिला अस्पताल को सुपर स्पेशलिटी अस्पताल की तर्ज पर किया जा रहा चकाचक, पढि़ए खबर...

सभी डॉक्टर रहेंगे तैनात
आयुष्मान भारत योजना के तहत हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में केवल भवन चकाचक नहीं होगा बल्कि इस अस्पताल में हर तरह के डॉक्टर भी तैनात रहेंगे। इसके लिए जिला स्तर के नहीं बल्कि प्रदेश स्तर के डॉक्टरों की मौजूदगी रहेगी। ताकि प्रधानमंत्री को छींक भी आए तो उनका इलाज भलिभांति किया जा सके।

जिला अस्पताल में भी तैयारी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन को लेकर न केवल पुराने जिला अस्पताल में बखूबी तैयारी की जा रही है बल्कि वर्तमान जिला अस्पताल में वह सारी सुविधाएं मुहैय्या कराई जा रही है जो एक अच्छे अस्पताल में सुविधाएं होती है। सीएमएचओ, सिविल सर्जन से लेकर जिला अस्पताल के सभी डॉक्टर अच्छे खासे टेंशन में हैं। लगातार स्वास्थ्य सुविधा में बेहतरी के लिए प्रयास किए जा रहे हैं।

ऐसा इसलिए किया जा रहा
बताया जा रहा है कि सभा स्थल के करीब व शहर के बीच एक अस्पताल में सारी सुविधाएं होनी चाहिए जिसके लिए सिटी डिस्पेंशरी यानी पुराना जिला अस्पताल में यह सुविधा बढ़ाई जा रही है। क्योंकि सभा स्थल से जिला अस्पताल की दूरी अधिक है और सड़क भी वन वे है। जबकि सभा स्थल खोखरा भांठा टीसीएल कालेज की दूर पास है। जिसे देखते हुए सिटी डिस्पेंशरी में सुविधाएं बढ़ाई जा रही है।

-प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन को लेकर सिटी डिस्पेंशरी को सुपर स्पेशलिटी अस्पताल की तर्ज पर संवारा जा रहा है। उनके आगमन के दिन यहां हर तरह के डॉक्टर मौजूद रहेंगे। इस अस्पताल को आयुष्मान भारत योजना के तहत हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर भी बनाया जा रहा है- गिरीश कुर्रे, डीपीएम

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned