कब बबा मरही त कब बरा चुरही व देवरानी जेठानी मंदिर से संबंधित प्रश्न देखकर खुश हुए परीक्षार्थी

CG PSC : छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग द्वारा राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा का किया गया आयोजन, प्रथम पाली में 500 तो दूसरे पाली में 511 रहे परीक्षार्थी रहे अनुपस्थित, भावी अफसरों ने बताया प्रथम पाली के पेपर थे आसान पर दूसरे पाली के पर्चे ने उलझाया

जांजगीर-चांपा. छत्तीसगढ़ प्रशासनिक सेवा के भावी अफसर पहले पाली का पर्चा हल करने के बाद काफी खुश दिखे। प्रथम पेपर सामान्य ज्ञान में कब बबा मरही त बरा भात चुरही व देवरानी जेठानी मंदिर कहां स्थित है, जैसे प्रश्र पूछे गए। इसके अलावा भी सरल प्रश्र थे। परीक्षा हल करने के बाद निकलते समय भावी अफसर काफी खुश दिखाई दिए।

शहर में सुबह से ही परीक्षा को लेकर लोग दूर-दराज से छोटे-बड़े वाहनों से पहुंचते रहे। केन्द्रों में जाने से पहले परीक्षार्थी काफी चिंतित दिखाई दे रहे थे। पहले चरण के पेपर दिलाकर केन्द्रों से निकलने के बाद अभ्यर्थियों के चेहरे खिले रहे। परीक्षार्थियों से बात करने पर उन्होंने बताया कि प्रश्न आसान थे पर माइनस मार्किंग चिंता का विषय रहा।

Read More: वीडियो में देखिए ग्रामीणों में हाथियों का खौफ, शाम होते ही छोटे-छोटे बच्चों को गोद में लेकर करने लगते हैं पलायन

रविवार को शहर के 9 परीक्षा केन्द्रों में दो पालियों में परीक्षा हुई है। पहली पाली की परीक्षा सुबह 10 से 12 बजे और दूसरी पाली की परीक्षा दोपहर 3 से 5 बजे तक हुई। परीक्षा में 3 हजार 619 परीक्षार्थियों को शामिल होना था। लेकिन प्रथम पाली में 500 अभ्यर्थी अनुपस्थित थे। वहीं दूसरी पाली में 511 अभ्यर्थी अनुपस्थित थे। पहली पाली में सामान्य ज्ञान और दूसरी पाली की परीक्षा में छत्तीसगढ़, हिंदी, गणित और तर्क शक्ति पर आधारित थी। दोनो पालियों में 2-2 अंक के 100-100 प्रश्न पूछे गए थे।

इसमें कब बबा मरही त कब बरा चुरही व देवरानी जेठानी मंदिर कहां स्थित है, गंगा दशहरा हिन्दू पंचायंग के अनुसार किस माह और तिथि में मनाया जाता है, मांद और महानदी के संगम पर कौन सा धार्मिक स्थल है, गौरलाटा चोटी किस पाट में स्थित है, गोमर्दा वन्यजीव अभयारण्य कहां स्थित है, सहित अन्य प्रश्न पूछे गए थे। इन प्रश्नों से अभ्यर्थी खुश नजर आए और परीक्षा अच्छा बनने की बात कहीं। पहले पाली सामान्य ज्ञान व दूसरे पाली में गणित व तर्कशक्ति के प्रश्र हल करने के बाद परीक्षार्थी खुशी-खुशी परीक्षा हॉल से बाहर निकले।

Read More : सतरेंगा को माडर्न टूरिज्म स्पॉट बनाने तेजी से हो रहा काम, बन रहा सेल्फी प्वाइंट, ये भी होगा खास

आसान आया था पेपर
बलौदा से आए परीक्षार्थी रूपेश दिनकर का कहना है कि पेपर आसान था। निर्धारित समय में 65 से 70 प्रश्न हल कर दिए हैं। जांजगीर जिले से ही दो प्रश्र पूछा गया था। जो आसानी से बन गया।
इसी प्रकार पामगढ़ से आए सुनील राठौर का कहना है कि पीएससी का इस बार का पेपर व्यापंम से भी सरल आया है। माइनस मार्किंग होने से थोड़ा चिंता है पर पेपर तो अच्छा बना है। सलेक्शन होना तय है।
शहर के परीक्षार्थी आदर्श पांडेय का कहना है कि सभी प्रश्न सरल थे। गणित व तर्कशक्ती से संबंधित प्रश्न भी सरल होने से पर्चा अच्छा गया है।

Vasudev Yadav Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned