चुनाव आचार संहिता लगने के बाद बांट दिया डेढ़ करोड़ का स्कालरशिप

चुनाव आचार संहिता लगने के बाद बांट दिया डेढ़ करोड़ का स्कालरशिप

Vasudev Yadav | Publish: Apr, 17 2019 07:21:53 PM (IST) | Updated: Apr, 17 2019 07:21:54 PM (IST) Janjgir Champa, Janjgir Champa, Chhattisgarh, India

श्रम अधिकारी का कहना है कि हमने राशि पहले जारी की
हितग्राहियों को ३ अप्रैल को यानी आचार संहिता लगने के बाद मिली राशि

जांजगीर-चांपा. कौशल विकास योजना के तहत प्रशिक्षण देने के बाद श्रम पदाधिकारी द्वारा छात्रों के डेढ़ करोड़ की स्कालरशिप राशि चुनाव आचार संहिता लगने के बाद उनके खाते में डाल दिया है। श्रम अधिकारी का कहना है कि हितग्राहियों को खाते में यह राशि चुनाव आचार संहिता लगने के पहले डाली गई है। जबकि हितग्राहियों को राशि ३ अप्रैल को उनके खाते में आई है। यानी चुनाव आचार संहिता लगने के पखवाड़े भर बाद। इसका प्रमाण पत्रिका के पास है।
जिले के श्रम पदाधिकारी वीके पटेल की बड़ी लापरवाही सामने आ रही है। दरअसल कौशल विकास योजना के तहत सिलाई कढ़ाई, राजमिस्त्री, इलेक्ट्रीशियन सहित विभिन्न तरह का प्रशिक्षण दिया गया था। जिसमें हजारों की संख्या में छात्रों ने प्रशिक्षण लिया था। छात्रों को प्रशिक्षण के दौरान छात्रवृत्ति का भुगतान करना होता है। छात्रों को तकरीबन डेढ़ करोड़ की स्कालरशिप अक्टूबर माह से भुगतान करना था। पहले इस मद में फंड नहीं आया था। विधानसभा चुनाव के बाद इस मद में फंड आया तो श्रम पदाधिकारी से ब्याज पाने के चक्कर में फंड को रोक दिया। ताकि बैंक से भारी भरकम राशि से उन्हें ब्याज मिलता। इसके बाद जब छात्र मुखर होकर इसकी शिकायत अधिकारियों से की तब श्रम पदाधिकारी ने राशि जारी तब किया जब लोकसभा के लिए चुनाव आचार संहिता लग गया।

आखिर कहां रुकी थी राशि
श्रम पदाधिकारी का कहना है कि उन्होंने बैंक में मार्च महीने के प्रथम सप्ताह में ही जमा कर दिया था, लेकिन हितग्राहियों को अप्रैल माह में राशि मिल रही है। जबकि ऐसा नहीं है कि माह भर तक राशि बैंक में रुकी हो। बता दें कि हितग्राहियों को यह राशि ३ अप्रैल को डाली गई है। जिले के हजारों हितग्राहियों को तकरीबन डेढ़ करोड़ का भुगतान किया जा रहा है। चुनाव आचार संहिता के दौरान उक्त राशि का भुगतान होने की पुष्टि होने पर श्रम पदाधिकारी पर निर्वाचन आयोग की गाज गिर सकती है।

सीधी बात: वीके पटेल, श्रमपदाधिकारी
सवाल: आपके उपर आरोप है कि चुनाव आचार संहिता लगने के बाद छात्रों को स्कालरशिप का भुगतान किया है।
जवाब: ऐसा नहीं है। हमने बैंक को भुगतान आचार संहिता लगने के पहले किया है।
सवाल: तो फिर बीच में राशि कहां रुक गई थी।
जवाब: हमें यह जानकारी नहीं है।
सवाल: छात्रों को यह राशि अप्रैल महीने में मिल रही है।
जवाब: हो सकता है।
सवाल: आपने बैंक को कब भुगतान किया है।
जवाब: आज छुट्टी है कल बता पाउंगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned