कोरोना संक्रमित मरीज के अंतिम संस्कार में बगैर डर के लोगों की जुटी भीड़, जमकर हुई अनदेखी

छत्तीसगढ़ के चांपा (Janjgir Champa Coronavirus Update) में एक 65 वर्षीय महिला की कोरोना से मौत हो गई। बड़ी बात यह है कि महिला का शनिवार को मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार किया गया, जिसमें बड़ी तादात में भीड़ जुट गई थी।लोगों को संक्रमण का डर नहीं था।

By: Ashish Gupta

Published: 05 Sep 2020, 09:09 PM IST

जांजगीर-चांपा. छत्तीसगढ़ के चांपा (Janjgir Champa Coronavirus Update) में शुक्रवार की देर रात एक 65 वर्षीय महिला की कोरोना से मौत हो गई। बड़ी बात यह है कि महिला का शनिवार को मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार किया गया, जिसमें बड़ी तादात में भीड़ जुट गई थी। लोगों को संक्रमण का डर नहीं था।

एक ओर कोरोना को लेकर लोगों में दहशत का आलम है। लोग कोरोना मरीज के शव को लेने से इनकार कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर चांपा के बड़े व्यवसायी की मौत के अंतिम संस्कार में ढांढस बंधाने बड़ी संख्या में लोग उपस्थित हो गए थे। जो शहर में चर्चा का विषय बन गया है।

लोग अंतिम संस्कार में शामिल होने के बाद भी बेधड़क शहर में घूम रहे हैं। जिससे लोग दूरी बनाकर चल रहे हैं। बताया जा रहा है कि महिला को सर्दी खांसी की शिकायत थी। तीन दिन पहले उसे रायपुर के एम्स में भर्ती कराया गया था। शुक्रवार की शाम को उसकी मौत हो गई थी। शनिवार को उसका अंतिम संस्कार किया गया। उसका कोई ट्रेवल हिस्ट्री भी नहीं है।

कोरोना संक्रमित के अंतिम संस्कार के लिए ये है दिशानिर्देश

बता दें कि स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी दिशानिर्देश के अनुसार यदि किसी कोरोना संक्रमित मरीज की मौत होती है तो अस्पताल के दक्ष कर्मचारी शव की सही तरह से सफाई और सैनिटाइज करेंगे। इसके बाद अस्पताल की एंबुलेंस से शव को श्मशान या कब्रिस्तान पहुंचाया जाएगा और परिजनों की मौजूदगी में निगम या नगर निकाय के कर्मचारी बड़ी सुरक्षा के साथ उसका अंतिम संस्कार करेंगे।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned