scriptShabby and lack of facilities were blindly made the center | जर्जर और सुविधाविहीन स्कूलों को आंख मूंदकर बना दिया सेंटर | Patrika News

जर्जर और सुविधाविहीन स्कूलों को आंख मूंदकर बना दिया सेंटर

दसवीं-बारहवीं परीक्षा के लिए सेंटर बनाने में जिला शिक्षाधिकारी कार्यालय से आंख मूंदकर स्कूलों का चयन कर दिया गया है। ऐसे स्कूलों को भी परीक्षा केंद्र बना दिया गया है जहां परीक्षार्थियों के लिए पर्याप्त बैठक व्यवस्था तो दूर भवन ही जर्जर है और बिजली-पानी और टॉयलेट तक की पर्याप्त व्यवस्था नहीं है।

जांजगीर चंपा

Published: March 04, 2022 09:16:33 pm

जांजगीर/पामगढ़. लापरवाही की हद यह है कि बकायदा बीईओ द्वारा डेढ़ से दो माह पूर्व ही ऐसे स्कूलों की सूची डीईओ आफिस को भेजी जा चुकी है मगर बावजूद इसके डीईओ आफिस के जिम्मेदारों ने आंख मूंदकर माशिमं को उन्हीं स्कूलों के नाम परीक्षा सेंटर बनाने के लिए भेज दिया। मंडल ने स्वीकृति भी दे दी और अब जब किरकिरी हो रही है तो आनन-फानन में केंद्रों को बदला जा रहा है। हाल ही में शैक्षणिक जिला जांजगीर के पामगढ़ ब्लॉक के दो परीक्षा केंद्र मौलिमाता उमावि भुईगांव व जय गुरुदेव उमावि खरखोद को बदलकर दूसरे स्कूलों को परीक्षा सेंटर बनाना पड़ा। बता दें, मौलिमाता उमावि भुईगांव व जय गुरुदेव उमावि खरखोद में भवन जर्जर और कोई भी मूलभूत सुविधा नहीं होने का हवाला देते हुए पामगढ़ बीईओ ने परीक्षा केंद्र नहीं बनाने की अनुशंसा की थी और जिला शिक्षाधिकारी को बकायदा १३ जनवरी २०२२ को पत्राचार भी किया था। साथ ही पांच और स्कूलों की भी अनुशंसा की थी जिसे भी केंद्र बनाना गया है और अब भी परीक्षा आयोजित हो रही है। इससे साफ जाहिर है कि ब्लॉक कार्यालयों से मिले अनुशंसा को उच्चाधिकारियों ने रद्दी की टोकरी में डाल दिया है। ऐसी ही स्थिति अन्य ब्लॉकों के कई और परीक्षा सेंटरों की है जहां इसी तरह आंख मूंदकर चयन हुआ है।
इन केंद्रों के लिए की थी अनुशंसा
न्यू ऑक्सफोर्ड स्कूल खरौद - मूलभूत सुविधा नहीं
मुस्कान हाईस्कूल जेवरा - अत्यंत जर्जर भवन
जय हिंगलाज माई कोसा - छोटा कक्ष, फर्नीचर, बिजली, पानी टॉयलेट नहीं
राजसी उमावि तनौद - टिन की छत, फर्नीचर, बिजली, शौचालय नहीं,
सूर्योदय उमावि धनगांव - ७ बच्चे ही दर्ज संख्या
बोर्ड परीक्षा में इस तरह की लापरवाही
इस बार शासकीय के अलावा सभी प्राइवेट हाईस्कूल और हायर सेकेंडरी स्कूलों को भी परीक्षा सेंटर बनाया गया है। जिससे ५२४ परीक्षा सेंटरों में दसवीं-बारहवीं की परीक्षाएं चल रही है। ऐसे में बिजली, पानी, टॉयलेट और पर्याप्त भवन होने पर ही परीक्षा सेंटर बनाने का नियम है। मगर यहां बोर्ड परीक्षा केंद्र बनाने में डीईओ आफिस से गंभीर लापरवाही बरती गई है जिसका खामियाजा अब बच्चों को उठाना पड़ रहा है। वहीं परीक्षा सेंटर बदलने में अब विभाग की ही किरकिरी हो रही है।
वर्जन
जिन स्कूलों में मूलभूत सुविधाएं नहीं थी, ऐसे सात स्कूलों को परीक्षा केंद्र नहीं बनाने की अनुशंसा करते हुए पूर्व में ही डीईओ कार्यालय में लिखित में सूचना दे दी गई थी। फिर भी केंद्र बना दिए गए हैं। परीक्षा संचालन में समस्या आ रही है इसीलिए अब केंद्र बदल जो रहे हैं।
राजेन्द्र शुक्ला, बीईओ पामगढ़
जर्जर और सुविधाविहीन स्कूलों को आंख मूंदकर बना दिया सेंटर
जर्जर स्कूल जिसे परीक्षा सेंटर बना दिया गया है

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

नोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेरपुलिस में मामला दर्ज, नाराज कांग्रेस विधायक का इस्तीफा, जानें क्या है पूरा मामलाDelhi LG Resigned: दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिया इस्तीफा, निजी कारणों का दिया हवालाIndia-China Tension: पैंगोंग झील पर बॉर्डर के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सैटेलाइट इमेज से खुलासाHeavy rain in bangalore: तेज बारिश से दो मजदूरों की मौत, मुख्यमंत्री ने की मुआवजे की घोषणाज्ञानवापी मस्जिद: नौ तालों में कैद वजूखाना, दो शिफ्टों में निगरानी कर रहे CRPF जवान, महंतो का नया दावापाकिस्तान व चीन बॉडर पर S-400 मिसाइल तैनात करेगा भारत, जानिए क्या है इसकी खासियतप्रयागराज में फिर से दिखा लाशों का अंबार, कोरोना काल से भयावह दृश्य, दूर-दूर तक दफ़नाए गए शव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.