Snake Bite: सांप के काटने से वनकर्मी और 12 साल के बच्चे की हुई मौत

मानसून (Monsoon) आते ही छत्तीसगढ़ में सर्पदंश (Snake Bite) के मामले बढ़ जाते हैं। ताजा मामला जांजगीर चांपा (Janjgir Champa) जिले का है, जहां सांप के डसने से एक वनकर्मी और 12 साल के बच्चे की मौत हो गई।

By: Ashish Gupta

Updated: 09 Jul 2020, 02:44 PM IST

जांजगीर-चाम्पा. मानसून (Monsoon) आते ही छत्तीसगढ़ में सर्पदंश (Snake Bite) के मामले बढ़ जाते हैं। ताजा मामला जांजगीर चांपा (Janjgir Champa) जिले का है, जहां सांप के डसने से एक वनकर्मी और 12 साल के बच्चे की मौत हो गई। दोनों घटनाओं की पुलिस जांच कर रही है।

पहली घटना नवागढ़ थाना क्षेत्र के मोहतरा गांव की है। यहां पेड़ पर चढ़ते वक्त 12 साल के आशीष पटेल पिता जगन्नाथ पटेल को सांप ने डस लिया। परिजन उसे लेकर नवागढ़ अस्पताल पहुंचे। गंभीर हालत होने पर उसे जिला अस्पताल रेफर किया। जिला अस्पताल पहुंचने पर डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

दूसरी घटना सक्ती विकासखंड के सकरेलीखुर्द की है। वनकर्मी उत्तम सिदार (55) को बिलासपुर जिले के कोटा के घर में सांप ने डस लिया। वे वहां पत्नी के साथ रह रहे थे। पत्नी ने अपने बेटों को फोन करके बुलाया और वे वनकर्मी उत्तम सिदार को कोटा से गांव सकरेलीखुर्द ले आए। तबियत बिगड़ने पर इलाज के लिए जिला अस्पताल जांजगीर लेकर आए। यहां डॉक्टर ने उन्हे मृत घोषित कर दिया।

सांप काटे तो अपनाए ये उपाय
जारी निर्देश में संर्पदंश होने की दशा में क्या करें इसके लिए यह बताया गया है कि
- सांप के काटने पर काटे हुए जगह को साबुन पानी से धोए।
- दांत के निशान की जांच करें, कहीं जहरीले सर्प के काटने का दो दांत का निशान तो नहीं।
- काटे हुए अंग को हृदय के स्तर से नीचे रखें, सर्पदंश वाले अंग को हिलाये-डुलायें नहीं और उसे स्थिर रखें।
- घाव के ऊपर बैन्डेज लगावें, घायल व्यक्ति को सात्वना दें।
- सर्पदंश में घबराहट के कारण हृदय गति चलने से रक्त का संचार तेज हो जाने की दशा में जहर सारे शरीर में फैलने की आशंका बनी रहती है।
- जिनती जल्दी हो सके पीड़ित को नजदीक के अस्पताल में ले जाए और यदि जहरीले सांप ने काटा है तो सर्प निरोधक वैक्सीन लगवाएं।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned