टीसीएल कॉलेज में ब्लूटूथ डिवाइस से नकल करते पकड़ाया बी-एड सेकेंड ईयर का छात्र

टीसीएल कॉलेज में ब्लूटूथ डिवाइस से नकल करते पकड़ाया बी-एड सेकेंड ईयर का छात्र

Vasudev Yadav | Publish: Apr, 17 2019 12:52:32 PM (IST) Janjgir Champa, Janjgir Champa, Chhattisgarh, India

नकल: बिलासपुर से पहुंची उडऩदस्ता की टीम ने पकड़ा, दो और नकलची भी धराए

जांजगीर-चांपा. बोर्ड परीक्षा में नकल के लिए बदनाम हो चुके जांजगीर-चांपा जिले में कॉलेज की परीक्षा में भी अब हाईटेक तरीके से नकल चल रहा है। नकल करने के लिए विद्यार्थियों हाई टेक्नोलॉजी का सहारा ले रहे हैं। ऐसा ही एक मामला शहर के शासकीय टीसीएल कॉलेज जांजगीर में मंगलवार को सामने आया। जहां बी-एड सेकंड ईयर के परीक्षा दिलाते एक छात्र को परीक्षा हॉल में उडऩदस्ता की टीम ने ब्लूटूथ डिवाइस से नकल करते पकड़ा। इसके अलावा दो
और नकलची भी पकड़े गए। उडऩदस्ता की टीम ने कुल तीन नकल प्रकरण बनाए हैं।
उल्लेखनीय है कि जिले में संचालित बी-एड कॉलेजों के लिए इन दिनों परीक्षाएं चल रही है। इसी कड़ी में ठाकुर छेदीलाल स्नानतकोत्तर महाविद्यालय जांजगीर को शहर के चार बीएड कॉलेजों का परीक्षा केंद्र बनाया गया है। मंगलवार को भी यहां दो पालियों में बीएड की परीक्षाएं आयोजित की गई थी। पहली पाली सुबह ७ से १० बजे तक आयोजित हुई। इसके बाद दूसरी पाली में ११ बजे से बी-एड सेकंड ईयर की परीक्षा शुरू हुई। परीक्षा के लिए चारों कॉलेज के ३६८ परीक्षार्थी शामिल होकर परीक्षा दिला रहे थे। वहीं ५ अनुपस्थित थे। इस दौरान दोपहर करीब साढ़े १२ बजे के लगभग बिलासपुर की उडऩदस्ता टीम अचानक टीसीएल कॉलेज पहुंची। टीम में शामिल संजय तिवारी, आलोक सिन्हा समेत तीन सदस्य शामिल थे। जिनके द्वारा कमरों में जाकर परीक्षा का निरीक्षण किया गया। इस दौरान परीक्षा हॉल क्रमांक १२ में टीम को एक परीक्षार्थी की गतिविधियां अलग दिखी। जिस पर टीम ने उक्त परीक्षार्थी की जांच की तो उसके हाथ की कलाई में एक डिवाइस लगा हुआ था जिसमें एक माइक्रो चिप भी लगा था, जिससे निकलकर एक केबल गले तक पहुंचा था, जहां माइक लगा हुआ था, जिसके सहारे छात्र नकल कर रहा था। परीक्षार्थी के इस हाईटेक तकनीक को देखकर कुछ देर के लिए उडऩदस्ता की टीम भी भौंचक रह गई। तत्काल छात्र को परीक्षा हॉल से बाहर निकाला गया और नकल प्रकरण बनाया गया। इस तरह नकल करने का मामला सामने आते ही परीक्षार्थी भी हड़बड़ाए गए।

छात्र-छात्रा भी नकल करते पकड़े गए
उडऩदस्ता की टीम ने इसके बाद अन्य कमरों में भी जाकर बारीकी से निरीक्षण किया। इस दौरान उडऩदस्ता की टीम ने एक छात्र को नकल करते पकड़ा। छात्र अपनी हथेली में आंसर लिखकर आया था और नकल कर रहा था। इसी तरह एक छात्रा को भी उडऩदस्ता की टीम ने नकल करते पकड़ा। इस तरह एक ही दिन में नकल के तीन प्रकरण दर्ज हुए।

जानकारी देने कॉलेज प्रबंधन बचता रहा
परीक्षा के दौरान इस तरह हाईटेक तरीके से नकल करते छात्र के पकड़े जाने के बाद कॉलेज प्रबंधन के होश उड़ गए। जानकारी मीडिया तक पहुंची तो कॉलेज प्रबंधन द्वारा मामले की पूरी जानकारी देने से हीलाहवाला किया गया। प्राचार्य से बात करने उनके मोबाइल पर रिंग किया गया लेकिन उन्हें फोन नहीं उठाया। केंद्राध्यक्ष प्रो. आरजी खुंटे ने जानकारी लेने पर उन्होंने इतना ही बताया कि नकल प्रकरण बना है लेकिन छात्र किस बीएड कॉलेज के हैं और उनके नाम क्या है, इसकी जानकारी रिकार्ड में है जिसे देखने के बाद ही बता पाएंगे।

दूसरी पाली में आयोजित बी-एड सेकंड ईयर की परीक्षा के दौरान बिलासपुर की उडऩदस्ता टीम ने मंगलवार को तीन नकल प्रकरण बनाए हैं। इनमें से एक छात्र ब्लूटूथ डिवाइस से नकल रहा था। यहां शहर के चार बी-एड कॉलेज के परीक्षार्थी शामिल हो रहे हैं।
प्रो. आरजी खुंटे, केन्द्राध्यक्ष टीसीएल कॉलेज जांजगीर

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned