scriptTeam from Delhi to check PMGSY road quality | पीएमजीएसवाय सड़क की गुणवत्ता जांचने दिल्ली से आई टीम | Patrika News

पीएमजीएसवाय सड़क की गुणवत्ता जांचने दिल्ली से आई टीम

locationजांजगीर चंपाPublished: Aug 27, 2022 09:15:54 pm

केंद्र सरकार द्वारा जांजगीर चांपा जिले में केंद्रीय मदद से निर्मित निर्माण कार्यों की जांच के लिए दिल्ली से एनआरआईडीए की टीम आई है। खासकर टीम के अधिकारियों का फोकस पीएमजीएसवाय द्वारा निर्मित सड़कों का निरीक्षण करना फोकस था। यह टीम उपर्युक्त उपयोगिता एवं गुणवत्ता की जांच करने तीन अधिकारियों की टीम जिले में हुए काम काज की समीक्षा कर रहे हैं।

पीएमजीएसवाय सड़क की गुणवत्ता जांचने दिल्ली से आई टीम
पीएमजीएसवाय सड़क की गुणवत्ता जांचने दिल्ली से आई टीम
जांजगीर-चांपा। यह टीम विकासखंड डभरा के तुसलीडीह से बघौद सड़क १० से ८० किलोमीटर का निरीक्षण एवं गुणवत्ता की जांच की। केंद्रीय दल की गुणवत्ता परीक्षण के लिए मोबाइल वेन की व्यवस्था पीएमजीएसवाय द्वारा की गई थी। यह वेन अधिकारियों द्वारा जांच एवं परीक्षण के लिए ही उपलब्ध रहती है। केंद्रीय दल द्वारा सड़क में आरओ १६०० एम पर ५० बाई ५० सीएम का पिट लगाकर डामरीकरण की मोटाई जांच की गई। सोल्डर में कांपेक्शन एवं सड़क के विभिन्न हिस्सों हिस्सों की तकनीकी परीक्षण किया गया। अधिकारियों ने सड़क निर्माण की गुणवत्ता को संतोषजनक बताया। इस अवसर पर पीएमजीएसवाय के कार्यपालन अभियंता पीके गुप्ता, सीईओ डभरा नायक, एपीओ ब्रजेंद्र ठाकुर उपस्थित थे।वहीं सेंट्रक की टीम में डिप्टी डायरेक्टर शैलेश कुमार, पीओ नीलरतन मित्र एवं इंजीनियर पुलकित नरूला शामिल थे।
नई तकनीक से बनी है यह सड़क
पीएमजीएसवाय के ईई पीके गुप्ता ने बताया कि तुलसीडीह से बघौद १० किलोमीटर की सड़क ७६० लाख रुपए में बनी है। जिसकी संधारण अवधि ४ दिसंबर २०२६ तक है। इस सड़क की खास बात यह है कि यह नई तकनीक से बनी है। डामरीकरण के समय नई टेक्नॉलाजी के तहत वेस्ट प्लास्टिक का इस्तेमाल किया गया है। इससे पहले पूर्व में निर्मित सीसी सड़क में शेलफील कांक्रीट का इस्तेमाल किया गया है। जो निर्माण के पश्चात जनसुविधा के लिए बहुपयोगी व कारगर होगी। खासकर टीम के अधिकारियों का फोकस पीएमजीएसवाय द्वारा निर्मित सड़कों का निरीक्षण करना फोकस था। यह टीम उपर्युक्त उपयोगिता एवं गुणवत्ता की जांच करने तीन अधिकारियों की टीम जिले में हुए काम काज की समीक्षा कर रहे हैं।
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.