scriptThe bookies went underground as soon as the police superintendent chan | पुलिस अधीक्षक के बदलते ही भूमिगत हुए सटोरिए | Patrika News

पुलिस अधीक्षक के बदलते ही भूमिगत हुए सटोरिए

वैसे तो आईपीएल को चलते ठीक दो माह हो चुके, पहले खुलेआम सटोरिए जिले में बखूबी सट्टा चलवा रहे थे लेकिन जब से एसपी विजय अग्रवाल की जब से जिले में पोस्टिंग हुई है तब से सटोरिए पूरी तरह से भूमिगत हो गए। कोई महानगरों की ओर कूच कर गए और बड़े शहरों में अपने ग्राहकों से लाखों के दांव लगवा रहे हैं तो कोई अंडरग्राउंड होकर गुपचुप तरीके से सट्टा खिलवा रहे हैं।

जांजगीर चंपा

Published: May 24, 2022 09:27:51 pm

जांजगीर-चांपा। हालांकि अब आईपीएल में चुनिंदा चार मैच बचे हैं। जिसमें दांव लगवाने सटोरिया कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। दिलचस्प यह है कि सभी सटोरिए जिले से पलायन कर गए हैं। यदि इनका लोकेशन तलाशी जाए तो बड़ा खुलासा हो सकता है। विडंबना यह है कि सटोरियों ने अपना मोबाइल नंबर बंद रखा है। नहीं तो निश्चित ही कई सटोरिए पकड़े जाते।
जांजगीर-चांपा व सक्ती सटोरियों का गढ़ है। यहां बड़े से बड़े सटोरिए आईपीएल में छाए रहते हैं। यहां आईपीएल के हर बाल में करोड़ों का दांव लगता है। यह किसी से छिपी भी नहीं है। आईपीएल के शुरूआती ५० मैचों में जिले में ही खुलकर सट्टा चल रहा था। लेकिन पुलिस को भनक भी लगी और कई छुटभैये सटोरियों को पकड़ा भी। केस सो करने में थाना प्रभारियों ने कोई कसर नहीं छोड़ा। लेकिन जब से एसपी विजय अग्रवाल जिले में आमद दी तब से सभी के सभी सटोरिए भूमिगत हो गए। अब किसी का भी पता नहीं चल रहा है। क्योंकि बड़े खाइवाल महानगरों के होटलों में गुपचुप तरीके से अपनी मंशूबों पर कामयाब हो रहे हैं। कुछ लोगों का कहना है कि कोई कोलकाता के होटलों में दांव लगवा रहा है तो कोई पुरी के होटलों में छिपकर लाखों के दांव लगवा रहा है। इतना ही नहीं कई ऐसे भी हैं जो जिले के बार्डर में सक्रिय हैं। लेकिन जिले में एक भी सटोरिया खुलकर दांव नहीं लगवा पा रहे हैं।
जुआरियों का भी यही हाल
जिले में जुआरियों का भी बोलबाला बंद हो चुका है। पहले पंतोरा के जंगल, अकलतरा क्षेत्र के लीलागर नदी, बिर्रा के महानदी तट, बलौदा के छाता जंगल, शिवरीनारायण के महानदी तट सहित कई ठिकानों में खुलकर जुआ चल रहा था। लेकिन एसपी विजय अग्रवाल के आने के बाद जुआरियों की भी सिट्टी पिट्टी गुम हो चुकी है। अब केवल बिर्रा के सिलादेही नदी के किनारे दारू भट्ठी के पास का जुआ चलते सुनाई पड़ रहा है। यहां भी पुलिस वालों ने छापेमारी की थी लेकिन जुआरी भाग निकले थे।
पुलिस अधीक्षक के बदलते ही भूमिगत हुए सटोरिए
पुलिस अधीक्षक के बदलते ही भूमिगत हुए सटोरिए

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Britain के पीएम बोरिस जॉनसन ने दिया इस्तीफा, जानें वो 'एक फैसला' जिससे गई कुर्सीपीएम नरेंद्र मोदी ने अखिल भारतीय शैक्षिक समागम का किया उद्धाटन बोले नई शिक्षा नीति मातृभाषा में पढ़ाई के रास्ते खोल रहीलालू प्रसाद यादव की हालत नाजुक, तेजस्वी यादव बोले - '3 जगह फ्रैक्चर, दवा के ओवरडोज से तबीयत बेहद बिगड़ी'Karnataka: बागलकोट जिले के केरूर में हिंसा, चार घायल, तीन गिरफ्तारBhagwant Mann Marriage Live Updates: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान को अरविंद केजरीवाल ने दी बधाईMaharashtra Cabinet: कैबिनेट विस्तार पर बीजेपी और शिंदे गुट में ऐसे बनी सहमति, जानें किसके के खाते में कौन-कौन से विभागVideo: पुलिस जीप में हंसता हुआ आराम से बैठा, हाथों से किए इशारे, सलमान का एक और वीडियो वायरलभारत ने श्रीलंका को तीसरे वनडे में 39 रन से हराया, 3-0 से क्लीन स्वीप कर रचा इतिहास
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.