लालची पति दहेज के लिए पत्नी को जहर खिलाकर कर रहा था मारने का प्रयास, फिर पलट गई बाजी

किसी तरह जान बचाकर भागी पत्नी

By: Shiv Singh

Published: 20 Jul 2018, 12:23 PM IST

जांजगीर-चांपा. दहेज में कम सामान लाने का आरोप लगाते हुए एक शख्स अपनी पत्नी को जहर देकर मारने का प्रयास कर रहा था। किसी तरह जान बचाकर भागी पत्नी सीधे पहुंची थाने और पति के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। पुलिस ने पति के खिलाफ जानलेवा हमले का आरोप लगाते हुए गिरफ्तार कर लिया है। मामला कोतवाली क्षेत्र का है।


कोतवाली पुलिस के मुताबिक स्वेता तिवारी ने 14 जुलाई को कोतवाली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसका पति तुषार तिवारी दहेज में कम सामान लाने का आरोप लगाकर उसे आए दिन प्रताडि़त करता था। इसकी रिपोर्ट पर पुलिस आरोपी पति के खिलाफ दहेज प्रताडऩा का केस दर्ज कर मामले की जांच कर रही थी।

Read more : जब सिर पर चढा नशा तो मामूली सी बात पर अपने हमप्याले दोस्त को ईंट से मारकर उतार दिया मौत के घाट

इस दौरान पत्नी फिर थाने पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसका पति तुषार तिवारी 11 मार्च को उसके मुंह में कीटनाशक दवा पिलाकर उसे जान समेत मारने का प्रयास कर रहा था। कीटनाशक दवा पीने के बाद महिला गंभीर हो गई थी। उसे गंभीर अवस्था में इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था। एसपी ने मामले में आरोपी पति तुषार तिवारी के खिलाफ जानलेवा हमले के आरोप का मामला दर्ज कराने के लिए कोतवाली थाने को आदेश दिया था। इसके उपरांत कोतवाली पुलिस ने आरोपी पति तुषार तिवारी के खिलाफ धारा 307 का मामला दर्ज किया है।

वारदात को अंजाम देने के बाद पति फरार था। पुलिस ने मंगलवार की रात को तुषार तिवारी के घर घेराबंदी कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी को न्यायिक रिमांड में भेज दिया है।


बच्चे को लेकर भी हुआ विवाद
महिला का एक दुधमुंहा बच्चा भी है। जिसे अपने कब्जे में लेने के लिए पति तुषार तिवारी जिद कर रहा था। बुधवार को इस मामले में कोतवाली थाना के सामने काफी बहस भी हो रही थी। आखिरकार बच्चे को मां के सुपुर्द किया गया।

Shiv Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned