छत्तीसगढ़ सरकार: यहां एक ही वाहन में की जाती है किताबों और शराब की सप्लाई

शिक्षा विभाग की गरिमा धूमिल

By: Shiv Singh

Published: 24 May 2018, 03:19 PM IST

जांजगीर-सक्ती. ट्रांसपोर्टर द्वारा अपने वाहनों में पाठ्य पुस्तक निगम की पुस्तक सप्लाई जिस वाहन में किया जा रहा, उसी वाहन में शराब की सप्लाई भी की जा रही है।

जिसे लेकर शिक्षा विभाग की गरिमा धूमिल हो रही है। शिक्षा को शराब से दूर रखा जाना है, वहीं ट्रांसपोर्टर द्वारा इस तरह के अनैतिक कार्य कर शिक्षा जगत को शर्मासार किया जा रहा है। जिसे लेकर लोगों में रोष व्याप्त है। लोगों द्वारा इस कृत्य पर विराम लगाने की बात कही जा रही है।


गौरतलब है कि नैला के एक ट्रांसपोर्टर को जिले में आबकारी परिवहन यानी शराब सप्लाई और पाठ्य पुस्तक निगम के पुस्तकों की सप्लाई का ठेका एक साथ मिला है। उक्त ट्रांसपोर्टर द्वारा अपने वाहनों में दो-दो पोस्टर लगाया गया है। जिसमें एक ओर नि:शुल्क पुस्तक वितरण एवं दूसरी ओर आबकारी परिवहन का बड़ा पोस्टर चिपकाया गया है।

यानी एक ही वाहन में वह शराब व पुस्तक दोनों की सप्लाई किया जा रहा है। ऐसे में लोगों के बीच यह भ्रम की स्थिति बन रही है कि शराब के साथ पुस्तकों की सप्लाई एक साथ की जा रही है। जबकि ट्रांसपोर्टर को यह करना चाहिए कि जिस वाहन में शराब की सप्लाई कराई जा रही है,

Read more : आखिरकार जागा विभाग और सुधारी अपनी नादानी, बांस की बल्लियों पर दौड़ा दी थी बिजली की तारें

उस वाहन में पुस्तक को दूर रखना चाहिए। यदि वह ऐसा कर रहा है तो वाहन में दो -दो पोस्टर नहीं लगानी चाहिए। क्योंकि जब वह स्कूलों तक पुस्तक छोडऩे जा रहा है तो लोगों के मन में यह मानकिसता घर कर जाती है कि कहीं इसी वाहन में शराब की सप्लाई तो नहीं की जा रही है।

ट्रांसपोर्टर के ऐसे कृत्य को लोगों में रोश जताया है। लोगों का कहना है कि जिस वाहन में जो चीजें सप्लाई की जा रही है उसी का पोस्टर लगा हो।

Shiv Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned