यातायात पुलिस छोटे वाहन चालकों पर इन दिनों लगातार कार्रवाई, भारी वाहनों को पकड़ो तो जाने!

यातायात पुलिस(Traffic police) इन दिनों चौक चौराहों में जोरों पर चल रहा है। यातायात पुलिस की टीम शाम ढलते ही शहर के नेताजी चौक, कचहरी चौंक की ओर निकलती है और ऐसे वाहनों को जब्त करती है जो चौराहों में बेतरतीब ढंग से खड़ी रहती है। अपने स्काई लिफ्ट(sky Lift) वाहनों में ऐसे बाइक को जब्त कर ले जाती है। फिर समन शुल्क(Suppression fee) लेकर छोड़ा जाता है।

By: Vasudev Yadav

Published: 01 Jul 2019, 01:02 PM IST

जांजगीर-चांपा. यातायात पुलिस(Traffic police) छोटे वाहन चालकों पर इन दिनों लगातार कार्रवाई कर रही लेकिन भारी वाहनें(Heavy vehicles) बीच शहर में ही फर्राटे मारते हुए आबाद हैं। आज तक भारी वाहन चालकों पर किसी तरह की कार्रवाई नहीं की जा रही है। क्योंकि भारी वाहन चालकों(Heavy vehicle drivers) का यातायात पुलिस से चोली दामन का साथ है। आज भी केरा रोड में ऐसे भारी वाहनों का रेला रहता है जो नियम कानून(Rule law) को ताक में रखकर बस स्टैंड के सामने बेतरतीब ढंग से ट्रकों को खड़ी किए होते हैं। ऐसे वाहन चालकों पर यातायात पुलिस(Traffic police) का डंडा नहीं कभी चला। बल्कि शहर के चौक चौराहों में छोटे वाहन चालकों को बेवजह परेशान किया जा रहा है। यहां तक कि छोटे वाहन चालक जो खरीददारी के लिए गांव से शहर आए रहते हैं उनके वाहनों को जब्त कर मोटरवीकल एक्ट के तहत कार्रवाई की जाती है।
यातायात पुलिस का डंडा इन दिनों चौक चौराहों में जोरों पर चल रहा है। यातायात पुलिस की टीम शाम ढलते ही शहर के नेताजी चौक, कचहरी चौंक की ओर निकलती है और ऐसे वाहनों को जब्त करती है जो चौराहों में बेतरतीब ढंग से खड़ी रहती है। अपने स्काई लिफ्ट वाहनों में ऐसे बाइक को जब्त कर ले जाती है। फिर समन शुल्क लेकर छोड़ा जाता है। यातायात विभाग की यह कार्रवाई स्वागतेय कदम है, लेकिन उन ट्रांसपोर्टरों पर कार्रवाई के बजाए आंख क्यों बंद कर लेती है जो केरा रोड, अकलतरा रोड, चांपा रोड या नैला रोड में बेतरतीब ढंग से खड़े रहती है। जबकि ऐसे वाहन आए दिन सड़क दुर्घटना के कारण बनते हैं।

भारी वाहनों से पांच लोगों की गई जान
बीच शहर में ऐसे ही भारी वाहनों की चपेट में आकर पांच साल में पांच लोगों की जान चली गई है। छह माह पहले पवन जनरल स्टोर के सामने भारी वाहन की चपेट में आकर एक युवक की मौत हो गई थी। इसी तरह केरा रोड में एक महिला को भारी वाहन ने कुचल दिया था। इसी तरह नेताजी चौक के पास एक पुलिसकर्मी को एक भारी वाहन ने कुचल दिया था। जबकि नैला स्टेशन रोड में दो साल के भीतर दो लोगों की मौत हो चुकी है। फिर भी भारी वाहनें आबाद हैं। ऐसे वाहन चालकों के खिलाफ यातायात पुलिस ने आज तक किसी तरह की कार्रवाई नहीं की है।

वर्जन
बीच शहर में आवागमन सुगम बनाने के लिए मोटरवीकल एक्ट के तहत कार्रवाई की जाती है। छोटे वाहन चालकों के अलावा भारी वाहन चालकों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाती है।
शिवचरण सिंह परिहार, टै्रफिक डीएसपी

Vasudev Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned