मोबाइल नहीं मिलने से हितग्राहियों में आक्रोश, कहा- करेंगे चुनाव का बहिष्कार

मोबाइल नहीं मिलने से हितग्राहियों में आक्रोश, कहा- करेंगे चुनाव का बहिष्कार

Shiv Singh | Publish: Sep, 16 2018 06:22:03 PM (IST) Janjgir-Champa, Chhattisgarh, India

ग्राम पंचायत मोहगांव के सरपंच ने बताया कि मोहगाव ग्राम पंचायत का नाम ही सूची से गायब है। इसके चलते ग्रामीण परेशान हैं।

जांजगीर-चांपा. विकासखंड बम्हनीडीह अंतर्गत ग्राम पंचायत भवरेली के आश्रित ग्राम मोहगांव में संचार क्रांति का मोबाइल नहीं बटा है। इसके कारण ग्रामीण आने वाले दिनों में विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करने वाले हैं। इसकी रूपरेखा ग्रामीण तैयार कर चुके हैं और सीईओ बम्हनीडीह से मिल चुके हैं। मोबाइल नहीं मिलने से ग्रामीणों में आक्रोश है। इधर सूत्रों का कहना है कि ब्लाक के कई गांवों के हितग्राहियों को संचार क्रांति योजना का लाभ नहीं मिला है। दूसरी खेप में ग्रामीणों को योजना का लाभ मिल सकता है।

गौरतलब है कि सरकार इन दिनों लोगों को संचार क्रांति योजना के तहत एंड्रायड मोबाइल बांट रही है। कई गांवों में इस योजना का लाभ देकर खुश कर दिया जा रहा, वहीं कई गांवों में योजना से हितग्राही वंचित है। इसके लिए कंपनी ने सर्वे कर पात्र हितग्राहियों का नाम एवं गांव की लिस्ट तैयार कर उन्हें मोबाइल बांटने का काम कर रही है। जिन गांव के लोगों का नाम सूची में दर्ज नहीं है वे बेहद परेशान हैं।

ग्राम पंचायत भवरेली के आश्रित ग्राम मोहगांव के लोगों ने बताया कि सरकार लोगों को संचार क्रांति योजना के तहत मोबाइल तो बांट रही है, लेकिन इसमें भी भेदभाव कर रही। कई गांवों में मोबाइल बंटा है, लेकिन कई गांव के लोगों का नाम ही गायब है। हद तो तब हो जा रही है जब ब्लाक मुख्यालय के गांव का नाम ही लिस्ट से गायब है। इसके चलते लोगों में रोष व्याप्त है।

ग्राम पंचायत मोहगांव के सरपंच ने बताया कि मोहगाव ग्राम पंचायत का नाम ही सूची से गायब है। इसके चलते ग्रामीण परेशान हैं। गांव के जलउपभोक्ता संस्था के अध्यक्ष भूपेंद्र दुबे एंव गांव के सरपंच ने कहा कि यदि चुनाव तक गांव के हितग्राहियों को मोबाइल नहीं मिलेगा तो वे विधानसभा चुनाव का बहिस्कार करेंगे। जिसकी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी।

सर्वे में सूची से नाम गायब
बताया जा रहा है कि निजी कंपनी द्वारा मोबाइल वितरण के लिए गांव का सर्वे कर हितग्राहियों का पंजीयन कराया जा रहा है। इसमें कई गांव का नाम सूची से छूट गया है। वहीं कई हितग्राहियों का नाम भी कट गया है। छूटे हुए गांव की लिस्ट में मोहगांव का नाम भी शामिल है। इसके चलते ग्रामीण परेशान हैं। अधिकारियों का कहना है कि अभी फिर सर्वे होगा और हितग्राहियों का पंजीयन होगा। पंजीयन होने के बाद हितग्राहियों को मोबाइल वितरण किया जाएगा। फिलहाल वजह जो भी हो जिन हितग्राहियों को अब तक मोबाइल नहीं मिल पाया है वे मोबाइल पाने बेताब हैं। यही वजह है कि वे चुनाव का बहिष्कार करने का मूड बना रहे हैं।

-ब्लाक के कई गांवों के हितग्राहियों को संचार क्रांति योजना का लाभ नहीं मिला है। इसके लिए पंजीयन किया जाएगा। पंजीयन के बाद दूसरी खेप में ग्रामीणों को योजना का लाभ मिल सकता है- मुकेश रावटे, सीईओ बम्हनीडीह

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned