परिस्थितियां ऐसी न हों कि अन्य ग्रहों पर जीवन तलाशे जाएं - यादव

परिस्थितियां ऐसी न हों कि अन्य ग्रहों पर जीवन तलाशे जाएं - यादव

Barun Shrivastava | Publish: Sep, 03 2018 05:33:04 PM (IST) Jashpur Nagar, Chhattisgarh, India

कार्यशाला का हुआ आयोजन

जशपुरनगर/कुनकुरी. इको फ्रेंडली सेल जशपुर के तत्वावधान में पर्यावरण संरक्षण एवं बदलते जलवायु को लेकर शनिवार को विकास खण्ड कुनकुरी नगर पंचायत अंतर्गत संचालित शासकीय और अशासकीय एवं अनुदान प्राप्त संस्थाओं के छात्र-छात्राओं द्वारा नगर में लोगों एवं जनमानस तक पर्यावरण जागरूकता का संदेश देने रैली निकाली गई, जिसमें कुनकुरी के निर्मला उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, महिमा उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, सरस्वती शिशु मंदिर उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, लोयोला अंग्रेजी माध्यम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय एवं कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय से 4000 से अधिक स्कूली बच्चों ने भाग लिया। रैली उपरांत विद्यार्थियों की एक दिवसीय कार्यशाला कुनकुरी के मंगल भवन में आयोजित की गई। इस कार्यशाला को संबोधित करते हुए पर्यावरण विशेषज्ञ एसपी यादव ने कहा कि हम जिस ग्रह में रहते हैं, जहां पर जीवन की सभी अनुकूल दशाएं पायी जाती है, लेकिन आधुनिकता की चकाचौंध एवं विकास के इस दौर में प्राकृतिक पर्यावरण में कई विनाशकारी बदलाव आए हैं जिससे अब जीवन की विषमताएं और जटिल हो गई हैं। उन्होंने कहा कि जैव विविधता के सरंक्षण के साथ साथ इकोसिस्टम में संतुलन बने रहना जरूरी है। अनुकूल जलवायु के साथ मौसम चक्र का बने रहना भी जीवों एवं वनस्पतियों के लिए आवश्यक है। उन्होंने जिले के बदलते हुए जलवायु एवं ग्लोबल वार्मिंग को जशपुर के लिए एक चुनौती करार दिया एवं कहा कि कहीं परिस्थितियां ऐसी न हों कि अन्य ग्रहों पर जीवन के संभावनाएं तलाशे जाएं, मानव ने अपने भौतिक आवश्यकताओं कि पूर्ति के लिए प्राकृतिक संसाधनों का बड़े पैमाने पर अति दोहन किया है जिसके कारण अब जलवायु के साथ साथ अतिवृष्टि एवं अनावृष्टि के फलस्वरूप आए दिन कई प्राकृतिक आपदाएं घटित हो रही हैं, जिसके कारण अब धरती पर जीवन विषम हो रही हैं। नदियों के सरंक्षण के साथ ही उन्होंने पर्यावरण को गंभीरता से लेने की बात कही।
मुम्बई के फिल्म कलाकारों ने रखे अपने विचार : मुंबई से 111 दिनों की पदयात्रा कर जल जंगल एवं जमीन की रक्षा के लिए पहुंचे 5 सदस्यों के टीम के प्रमुख श्रीराम डाल्टन ने कहा कि खनन एवं जमीन के कारोबारियों के कारण अब देश की धरती पर खतरा है, यहां पानी बोतलों में बिक रही है उन्होंने विकास के साथ स्थायित्व पर जोर दिया। कार्यक्रम में नगर के सोनू पांडेय, प्रशांत शर्मा, रामप्रकाश पांडेय, एस गुप्ता, संजीत यादव, संतोष चौधरी, सागर जोशी, देवनारायण राम, प्रकाश टोप्पो सहित सभी शिक्षण संस्थाओं के प्राचार्यों एवं शिक्षक-शिक्षिकाओं ने अपना योगदान दिया।
बच्चों ने ये कहा : निर्मला उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की छात्राओं शिबु निशा, मुस्कान, आकांक्षा गुप्ता एवं श्वेता से पूछे गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पर्यावरण की अनदेखी भविष्य में खतरों के संकेत हैं, हर नागरिक एवं युवा वर्ग को जल जंगल एवं नैसर्गिक परिदृश्यों को बनाये रखने में अपना योगदान देना चाहिए एवं साथ ही प्रकृति से खिलवाड़ नहीं करना चाहिए। उन्होंने आयोजित कार्यशाला को ऐतिहासिक करार दिया और युवाओं को मोटिवेट एवं सही दिशा देना जरूरी बताया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned