शादी में आई किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म

आरोपियों ने किशोरी को जबरन शराब पिलाकर उसके साथ किया गैंगरेप, मामले में दो आरोपी गिरफ्तार

By: Barun Shrivastava

Published: 07 Jun 2018, 07:07 AM IST

बगीचा. जशपुर जिले के बगीचा में एक नाबालिग किशोरी के साथ गैंगरेप की घटना सामने आई है। मानवता को शर्मसार करने वाली इस घटना में आरोपियों ने 14 साल की किशोरी को जबरन शराब पिलाकर उसके साथ गैंगरेप किया गया। इस गैंगरेप के दो आरोपियों को पुलिस ने घटना की रिपोर्ट के बाद 12 घण्टे के भीतर गिरफ्तार कर लिया है। वहीं गैंगरेप पीडि़ता को गम्भीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना जशपुर जिले के बगीचा थाना क्षेत्र की जहां शादी समारोह में शामिल हुई किशोरी के साथ युवकों ने गैंगरेप किया है फिलहाल पुलिस पीडि़ता से बयान लेने की कोशिश कर रही है जिसके बाद और भी आरोपियों के नाम सामने आ सकते हैं। घटना के संबंध में पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बगीचा थाना क्षेत्र की 14 साल की मासूम बच्ची अपने गांव में ही हो रही शादी समारोह में शामिल होकर नाचगान कर रही थी। इसी दौरान शराब के नशे में धुत्त गांव के ही कुछ युवकों की बुरी नजर नाबालिग लड़की पर पड़ी और जब लड़की नाच गाकर शादी घर से बाहर निकली तो युवकों ने उसे पकड़ लिया और जबरन मुंह मे कपड़ा ठूंसकर सुनसान इलाके में ले गए और इतना ही नहीं युवकों ने लड़की को जबरन शराब भी पिला दी और फिर उसके साथ गैंगरेप किया।
बेहोशी की हालत में मिली पीडि़ता : गैंगरेप की शिकार किशोरी अपने साथ हुए घिनौनी वारदात के बाद बेहोश हो गई। जिसे उसके हाल पर छोड़कर आरोपी मौके से फरार हो गए जिसके बाद गांव के ही एक ग्रामीण ने बच्ची को बेहोशी हालत में देखा और फिर लड़की के घरवालों को इसकी सूचना दी। बाद में लड़की को होश आया तो पीडि़ता ने अपनी मां को अपने साथ हुए हैवानियत की जानकारी दी। इसके बाद पीडि़ता की मां किशोरी को लेकर थाने पहुंची। पीडि़ता की हालत देखकर पुलिस ने पहले बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया जहां पीडि़ता का इलाज चल रहा है। बगीचा टीआई राजेश मरई ने बच्ची की मां की रिपोर्ट पर अपराध कायम किया और वारदात को अंजाम देने वाले दो आरोपियों फकल राम पिता जेठू राम १९ वर्ष और ढोली राम पिता सेवक राम १९ वर्ष को आईपीसी की धारा ३७६ (डी) ४, ६ पॉस्को एक्ट के तहत गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस जांच कर रही है बताया जा रहा है कि कुछ और आरोपी भी मामले में गिरफ्तार हो सकते हैं।

Barun Shrivastava Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned