ये इंशान है या हत्यारा पहले अपनी माँ को मार डाला, सजा काटकर आया तो ससुराल जाकर पत्नी को भी मौत के घाट उतार दिया

पत्नी के साथ जंगल बकरी चराने गए आरोपी ने जंगल में ही पत्नी की हत्या को दिया था अंजाम

By: BRIJESH YADAV

Published: 10 Mar 2019, 12:21 AM IST

जशपुरनगर. पत्नी के पर गांव के किसी युवक से अवैध संबंध की आशंका को लेकर ग्रामीण ने अपनी पत्नी की टांगी मार कर हत्या कर दी। पुलिस ने हत्या के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। घटना आरा चौकी क्षेत्र के ग्राम गोड़ीटोली की है।
घटना के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार ५ मार्च को आरा गोढ़ीटोली निवासी दुर्गा प्रसाद पिता कोचो राम अपनी पत्नी सुंगती के साथ बकरी चराने के लिए जंगल की ओर गया हुआ था। जंगल की ओर जाने के बाद दोनो पति पत्नी में विवाद होना शुरु हो गया। आरोपी दुर्गा प्रसाद अपनी पत्नी के ऊपर शंका करता था कि गांव के किसी युवक के साथ उसका अवैध संबंध है और इसी बात को लेकर दोनो के बीच विवाद हुआ था। जंगल जाने के दौरान सुंगती बाई अपने हाथों में टांगी लेकर गई हुई थी और विवाद होने के दौरान आरोपी ने अपनी पत्नी के हाथों से टांगी को छीनकर उसी टांगी से अपनी पत्नी के ऊपर वार कर दिया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी। दूसरे दिन गांव के शिवचरण राम, संदीप राम एवं शंकर राम ने कार्तिक राम को बताया कि सुगंती बाई दिन में टांगी पकडक़र अपने पति दुर्गा प्रसाद के साथ बकरी चराने के लिए कुम्भी घाट पहाड़ की ओर गई थी जो गांव वापस नहीं आई है। गांव वाले उसे जंगल की ओर खोजने गए तो वहां कुम्भी घाट के पास सुगंती की लाश पड़ी हुई थी और उसके दाहिने कान, गर्दन, पीठ, भुजा में टांगी मारने के निशान थे। सुंगती का शव मिलने पर कार्तिक ने दुर्गा प्रसाद के खिलाफ आरा चौकी में हत्या का मामला दर्ज करा दिया।

पूर्व में अपनी मां का कर दिया था हत्या : आरा चौकी प्रभारी टीआर सारथी ने बताया कि आरोपी सजायाफ्ता है और पूर्व में आरोपी ने अपनी मां की भी हत्या कर चुका है। इसके साथ ही आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म और लूट का भी मामला दर्ज हो चुका है। दुर्गा प्रसाद को एक मामले में ५ वर्ष की सजा भी हुई थी और अंबिकापुर जेल से सजा काट कर दिसंबर २०१८ में निकला था। सजा काटने के बाद से आरोपी अपने ससुराल आरा गोढ़ीटोली में रह रहा था। जंगल में अपनी पत्नी की हत्या करने के बाद फरार हो गया था। जिसे आरा पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर गांव से गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड में जेल भेज दिया है।

Show More
BRIJESH YADAV Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned