यहां जंगली हाथियों ने मचा रखा है हाहाकार, ग्रामीणों के जान माल की सुरक्षा के लिए बनी स्पेशल टीम

यहां जंगली हाथियों ने मचा रखा है हाहाकार, ग्रामीणों के जान माल की सुरक्षा के लिए बनी स्पेशल टीम

Saurabh Tiwari | Updated: 14 Aug 2019, 07:47:59 PM (IST) Jashpur, Jashpur, Chhattisgarh, India

नारायणपुर रेंज में हाथियों की संभावित मूवमेंट पर वन विभाग की है नजर

साहीडांड़. नारायणपुर रेंज के जंगल क्षेत्र में लगातार हो रहे जंगली हाथियों के सिलसिलेवार आतंक और जंगली हाथियों के द्वारा कई ग्रामीणों के मकान, कई लोगों की जान लेने और किसानों की फसलों को बर्बाद करने जैसी लगातार घटनाओं से दहल चुके साहीडांड़ क्षेत्र में जंगली हाथियों के आतंक को कम करने के उद्देश्य से गेम रेंजर ने रात्रि भ्रमण के लिए गश्ती दल का समूह बना दिया है, जिसमें प्रत्येक दिन के हिसाब से हर कर्मचारी की ड्यूटी लगाई गई और हर दल के द्वारा अपने अपने समूह के हिसाब से गश्ती भी की जा रही है।

इन दिनों सप्ताह भर से इस क्षेत्र में हाथियों का आतंक तो नही है न ही क्षेत्र में हाथियों के होने की कोई जानकारी मिल रही है। फिर भी नारायणपुर गेम रेंजर के बनाए गए गश्ती दल के समूहों को लगातार क्षेत्र में घूमते हुए देखा जा रहा है। गश्ती दल की प्रभारी रीता भगत ने बताया कि अभयारण्य जंगल क्षेत्र में पिछले एक सप्ताह से हाथियों के होने की किसी भी क्षेत्र से सूचना नही मिल रही है।

अधिकारियों के निर्देशानुसार गश्ती दल गठित का गठन किया गया है। गश्ती दल अपने अपने दिन के अनुसार हाथी प्रभावित क्षेत्र में रात को पहुंच रहे हैं, और क्षेत्र के ग्रामीणों से मिल कर हाथी से बचने एवं जंगली हाथियों से छेड़ छाड़ न करने के लिए उन्हें सलाह दी जा रही है। पिछले एक सप्ताह से साहीडांड़, रमसमा के सिक्टाटोली, बरडांड़, सरार सहित अन्य जंगल से सटे गांव में रात को वन विभाग की टीम को गश्ती करते देखा गया है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned