मुख्यमंत्री की सभा की तैयारियों को लेकर रणजीता स्टेडियम में खोदे जा रहे हैं गड्ढे

खेल मैदान को कई प्रकार से नुकसान पहुंचने की जताई जा रही आशंका, खेल प्रेमी हो रहे आहत

By: Barun Shrivastava

Published: 07 Jun 2018, 07:07 AM IST

जशपुरनगर. प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह इस महिने की ११ तारीख को जशपुर में विकास यात्रा के तहत जशपुर में एक रोड शो करने वाले हैं और फिर जिला मुख्यालय जशपुर के रणजीता स्टेडियम में एक सभा को संबोधित करेंगे, इसके लिए रणजीता स्टेडियम में एक विशाल वाटर प्रूफ डोम और विशाल मंच का निर्माण किया जा रहा है, लेकिन सीएम साहब की इस सभा की तैयारी के नाम पर रणजीता स्टेडियम के खेल मैदान में बड़े बड़े गड्ढे खोदे जा रहे हैं इससे शहर के खेल प्रेमी आहत हैं और चूंकी मामला सूबे के मुखिया का मामला है इसलिए दबी जुबान में पर अपनी आपत्ति जरूर दर्ज करा रहे हैं। शहर के खेल प्रेमियों का कहना है कि नेताओं के दर्जनो आश्वासनो के बावजूद रणजीता स्टेडियम के खेल मैदान का भला तो नहीं किया जा सका पर विकास यात्रा के नाम पर इसका विनाश जरूर हो रहा है। विभिन्न खेल आयोजनो और जिले के खिलाडिय़ों को प्रशिक्षित करने के लिए जिले के एकमात्र रणजीता स्टेडियम का कायाकल्प नहीं हो पा रहा है। इस स्टेडियम को हाईटेक बनाने के लिए कई बार खेल आयोजन के दौरान ही सांसद, विधायक और मंत्री के द्वारा घोषणा की गई है। लेकिन उनकी घोषणा सिर्फ घोषणा ही बन कर रह गई है। घोषणाओं पर अमल नहीं हो पाने के कारण इस स्टेडियम की स्थिति में सुधार नहीं हो पा रहा है। जबकी इस स्टेडियम में राष्ट्रीय पर्व सहित अनेक शासकीय कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है उसके बावजूद भी इस स्टेडियम के सुधार की ओर किसी का ध्यान नहीं जाता है। वहीं ११ जून को मुख्यमंत्री रमन सिंह के विकास यात्रा का कार्यक्रम भी इसी स्टेडियम में आयोजित किया जाना है। विकास यात्रा के कार्यक्रम के लिए जिला प्रशासन के द्वारा इसे सभा स्थल के रुप में चयनित करते हुए यहां कार्यक्रमों की तैयारी शुरु कर दी है। विकास यात्रा के लिए लगाए जाने वाले पंडाल और कार्यक्रम के लिए तैयार किया जा रहा मंच इस स्टेडियम को विनाश की ओर ले जाएगा। इस स्टेडियम में कार्यक्रम आयोजित होने के बाद इसके रख रखाव में किसी के द्वारा ध्यान नहीं दिए जाने के कारण यहां प्रतिदिन खेल अभ्यास करने वाले खिलाडिय़ों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। यहां तक की खेल के अभ्यास के लिए खिलाडिय़ों को स्वंय की मैदान की सफाई तक करनी पड़ती है। जिला मुख्यालय के रणजीता स्टेडियम में हर वर्ष बड़े-बड़े शासकीय कार्यक्रमों के साथ ही साथ अंतर्राज्यीय प्रतियोगिताओं का आयोजन भी किया जाता है। यहां होने वाले खेल प्रतियोगिताओं के आयोजनों को देखने के लिए बड़ी संख्या में भीड़ उमड़ी है। भीड़ के साथ साथ कई दिग्गज भी इन प्रतियोगिताओं के आयोजन में अपनी शिरकत करते हैं। उसके बावजूद भी यह स्टेडियम अपनी दुदर्शा का आंसू बहाने को मजबूर है। स्टेडियम के तैयार होने के कुछ माह के बाद ही यहां लगे खिड़की दरवाजे को आसमाजिक तत्वों ने अपना निशाना बनाना शुरू कर दिया था, अब यहां की स्थिति यह हो गई है कि तोड़ फोड़ के कारण अब यहां कोई जाना तक नहीं चाहता है।
घोषणाओं के बाद भी मैदान में नहीं लगी घास: जिला मुख्यालय के रणजिता स्टेडियम में प्रतिवर्ष अंतराज्ययी फुटबाल प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है। इस प्रतियोगिता के देश की कई नामी गिरामी टीम हिस्सा लेकर अपने खेल जौहर का प्रदर्शन करते हैं। वहीं इस आयोजन में सांसद, विधायक, मंत्री तक शिरकत करते हैं। रणजिता स्टेडियम में आयोजित होने वाले फुटबाल प्रतियोगिता में शिरकत करने पंहुचे संासद,विधायक के द्वारा कई बार यहां के मंच से मैदान को हाईटेक करने के साथ-साथ यहां घास लगाने की भी घोषणा की जा चुकी है। फुटबाल प्रतियोगिता के दौरान विधायक राजशरण भगत के द्वारा लगातार तीन वर्षो तक यहां के मैदान में उच्चस्तरीय बनाने की घोषणा की गई है। विधायक के द्वारा पहली बार की गई घोषणा से जहां शहर के खिलाडिय़ों में उत्साह की लहर थी कि अब उन्हें भी यहां खेल अभ्यास करने के लिए हाईटेक मैदान उपलब्ध हो जाएगा। लेकिन विधायक की घोषणा पर अब तक किसी भी प्रकार का कोई अमल नहीं हो सका है। पहली घोषणा पूरी नहीं होने के बाद दो बार फिर से विधायक ने इस स्टेडियम के जीवर्णोद्धार के लिए यहां के मंच से हजारों नागरिकों के सामने घोषणा की थी। रणजिता स्टेडियम के जीवर्णोद्धार के लिए विधायक राजशरण भगत के साथ ही साथ फुटबाल प्रतियोगिता बतौर मुख्य अतिथि के रुप में पंहुचे केंद्रीय मंत्री विष्णु देव साय ने भी जिले में खेल की संभावानाओं को देखते हुए इस मैदान के जीर्णोद्धार के साथ-साथ इस मैदान में खिलाडिय़ों के खेल प्रतिभा में निखार लाने के लिए घास लगाने की घोषणा कर चुके हैं। बार बार घोषणा करने के बाद भी कोई अमल नहीं हो सका।
यात्रा की तैयारी ने स्टेडियम का किया विनाश : शहर का एक मात्र स्टेडियम जहां कई कार्यक्रमों के आयोजन के साथ ही साथ प्रतिदिन यहां के खिलाड़ी छात्रों के द्वारा अपने खेल का अभ्यास किया जाता है, वहां 11 जून को प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह आम जनता को संबोद्धित करेंगे। सीएम के कार्यक्रम के लिए पूरे मैदान में वाटरप्रूफ पंडाल लगाने की तैयारी चल रही है। वहीं पंड़ाल बनाने के साथ ही साथ एक नए मंच का भी निर्माण किया जा रहा है। नए मंच का निर्माण पुराने मंच से सटा कर ही बनाया जा रहा है और इस मंच का निर्माण करने के लिए स्टेडियम में बकायदा खोदाई कर मंच का निर्माण किया जा रहा है। ११ जून को कार्यक्रम समाप्त हो जाने के बाद यदि उस मंच को ऐसे ही छोड़ दिया जाता है तो यहां प्रतिदिन खेल अभ्यास के लिए पंहुचने वाले खिलाडिय़ों को परेशानी का समाना करना पड़ेगा। इसके साथ ही पूरे स्टेडियम में वाटरप्रुफ पंडाल लगाने के लिए जगह जगह गड्डा किया जाना है।

Barun Shrivastava Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned