कलयुगी चाचा ने कर दी 7 साल की भतीजी की गला दबाकर हत्या, लाश को कुंए में फेंका और पुलिस में गुमशुदगी की रिपोर्ट भी लिखवाई

crimeघरेलू विवाद के कारण एक सगे चाचा ने अपनी सात साल की भतीजी की हत्या कर उसके शव को कुआं में फेक दिया।

By: BRIJESH YADAV

Published: 20 Apr 2019, 11:43 AM IST

जशपुरनगर. घरेलू विवाद के कारण एक सगे चाचा ने अपने सात साल की भतीजी की हत्या कर उसके शव को कुआं में फेक दिया था। शुरु में परिजनों को शक था कि बच्ची खेलते खेलते कुएं में गिर गई होगी। बच्ची के शव के पीएम रिपोर्ट आने पर मामला हत्या कर निकाला और पुलिस ने आरोपी चाचा को अपने हिरासत में ले लिया है। घटना जिले के दुलदुला पतराटोली की है।
घटना के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार पतराटोली गांव निवासी 25 वर्षीय अन्नु गुप्ता ने 17 अप्रैल को लगभग 4-5 बजे 7 साल की अपनी भतीजी अंशिका को घुमाने के लिए लेकर गया था और गला दबाकर उसकी हत्या कर दी और बच्ची के मौत के बाद शव को कुएं में फेक दिया था। घटना के बाद परिजनों को जब बच्ची कहीं दिखाई नहीं दिया तो आस पास ढूढऩा शुरु कर दिया था। परिजन जब बच्ची की खोजबीन कर रहे थे उस दौरान आरोपी भी बच्ची को खोजने का नाटक करना शुरु कर दिया था और बच्ची के संबंध में कुछ जानकारी नहीं मिला तो स्वंय ही बच्ची की गुम होने की शिकायत करने थाना भी पंहुचा था।
प्रेम प्रसंग के मामले में किया हत्या : सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक आरोपी अन्नू का किसी नजदीकी रिश्तेदार लडक़ी के साथ प्रेम प्रसंद चल रहा था और वह उससे शादी करना चाहता था। लेकिन उसके घर वाले और परिजन उस शादी के लिए तैयार नहीं थे। अन्नु का बड़े भाई और भाभी ने भी उसे उस लडक़ी से शादी करने से मना करते हुए उसकी कहीं और शादी तय कर दिया था। अन्नु की शादी दूसरे जगह तय हो जाने से नाराज अन्नु ने अपनी ही भजीती की हत्या कर दी।
पिता को जेल से लेने गया था बड़ा भाई : अन्नु ने जब घटना को अंजाम दिया उस दौरान उसका बड़ा भाई अपने पिता को जमानत में अपने पिता को जेल से रिहा करने के लिए जशपुर आया हुआ था। पुलिस ने अबकारी एक्ट के मामले में आरोपी के पिता के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उसे न्यायालय में पेश करते हुए उसे जेल भेज दिया था। आरोपी का बड़ा भाई पिता को जमानत पर रिहा कराने जशपुर आया हुआ था और उसी यह घटना हो गई। 
आरोपी ने स्वंय कुंअे से निकाला शव बाहर : आरोपी अन्नु अपनी भतीजी की हत्या करने के बाद उसके शव को कुआं में फेक दिया था और परिजनों के साथ मिलकर उसकी खोजबीन कर रहा था। कुछ देर के बाद आरोपी अन्नु जिस कुएं में बच्ची का शव को फेका था उसी कुआं में स्वंय नीचे उतर गया और लोगों को फोन कर जानकारी दिया कि बच्ची कुआं में है और बच्ची के शव को लेकर कुआं से बाहर निकाला था। बच्ची का शव कुआं में मिलने की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई और जांच के दौरान शक की सुई घर वालों पर ही गया। आस-पास पूछताछ में बच्ची के चाचा अन्नु के बारे में अहम जानकारी मिली तो पता चला कि उनके घर में आए दिन विवाद होता रहता है। शक के आधार पर युवक को हिरासत में लेकर पुलिस ने जब कड़ाई से पूछताछ की तो युवक ने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

Uncle killed niece due to domestic dispute
Show More
BRIJESH YADAV Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned