जौनपुर में अंबेडकर और बुद्ध प्रतिमा तोड़ी गयी, बड़ी तादाद में पहुंची भीड़, प्रशासन के हाथ पांव फूले

जौनपुर में अंबेडकर और बुद्ध प्रतिमा तोड़ी गयी, बड़ी तादाद में पहुंची भीड़, प्रशासन के हाथ पांव फूले
Ambedkar and Budha statue Destroyed

अराजकतत्वों ने तोड़ी अंबेडकर और बुद्ध की प्रतिमा, किसी तरह प्रशासन ने संभाला मामला, लोगों में आक्रोश।

जौनपुर. बक्शा थाना क्षेत्र के पुरातेजी गांव में शुक्रवार की रात्रि शरारती तत्वों ने डॉ. भीमराव अंबेडकर व भगवान बुद्ध की प्रतिमा क्षतिग्रस्त कर दिया। शनिवार को सुबह होते ही ग्रामीणों ने मूर्ति तोड़े जाने की सूचना पुलिस को देते हुए बसपा कार्यकर्त्ताओ को दी। थोड़ी ही देर में थानाध्यक्ष शिवशंकर सिंह मय फोर्स मौके पर पहुँच गये। उधर एकत्रित सैकड़ो की भीड़ मौके पर मूर्ति तोड़े जाने का विरोध कर रही थी।




उक्त गाँव के दलितों ने गांव में ही अंबेडकर मूर्ति का स्थापना की थी। कुछ दिन बाद गाँव का ही एक युवक भगवान बुद्ध की प्रतिमा भी बना कर स्थापित करवा दिया। देर रात्रि अराजकतत्वों ने पहुँच दोनों मूर्तियों को क्षतिग्रस्त कर दिया। सुबह होतें ही मूर्ति तोड़े जाने की घटना जैसे-जैसे फैलती गयी मौके पर लोगो की भीड़ बढ़ती गयी।




थोड़ी ही देर में थानाध्यक्ष पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुँच लोगो को समझाने बुझाने में जुट गये। घटना की सूचना मिलते ही बसपा जिलाध्यक्ष सिरजु प्रसाद उर्फ बाबा सहित तमाम कार्यकारिणी सदस्य भी मौके पर पहुँच गये। उधर स्थिति की गम्भीरता को देखते हुए तहसीलदार सदर भी आ गये। मौके पर नाराज बसपा कार्यकर्ताओ से वार्ता पश्चात थानाध्यक्ष ने शाम तक दूसरी मूर्ति लगवाने का भरोसा दिलाया।



अरविन्द कुमार की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। इस दौरान डॉ. हंसराज भारती, तपेश विक्रम मौर्य, बाबूनाथ सरोज, मुनिराम यादव, अजय भारती, संजय गौतम, जेपी सिंह, मनोज मार्शल, रमेश सरोज, मुंशीराम, सन्तोष अग्रहरि, रामलखन गौतम आदि लोग मौजूद रहे।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned