जौनपुर में बागी हुये भासपाई, फूंका झंडा और पुतला 

जौनपुर में बागी हुये भासपाई, फूंका झंडा और पुतला 
bhartia samaj party,

राष्ट्रीय अध्यक्ष पर लगाया 5 लाख में टिकट बेचने का आरोप

जौनपुर. भारतीय समाज पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बृहस्पतिवार को अपनी ही पार्टी के खिलाफ बगावत कर दी। राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर पर पैसे देकर टिकट बांटने का आरोप लगाया है। कार्यकर्ताओं ने उनके खिलाफ नारेबाजी करते हुए पार्टी का झंडा और टोपी जला दी।

भासपा और भाजपा का गठबंधन है। इस गठबंधन के तहत जौनपुर के शाहगंज विधानसभा सीट से भासपा को ही अपना प्रत्याशी उतारना है। काफी दिनों से कार्यकर्ता इस ओर निगाह लगाए बैठे थे। कई तो दावेदारी भी पेश कर रहे थे। इसी बीच मनीष सिंह और राणा अजीत सिंह का नाम तैरने लगा।

राणा अजीत सिंह व्यवसायी हैं। जबकि मनीष सिंह अधिवक्ता हैं। भासपा ने उम्मीदवारों की घोषणा की तो राणा अजीत सिंह को शाहगंज से अपना उम्मीदवार बनाया। घोषणा होते ही पाटी कार्यकर्ताओं ने हंगामा खड़ा कर दिया। आरोप लगाया कि अध्यक्ष ने 5 करोड़ रूपये लेकर राणा अजीत सिंह को टिकट बेचा है।

जमीनी कार्यकर्ताओं की अनदेखी की गई है। इसके विरोध में सभी एकजुट हो गए। जिला जेल के पास स्थित मनीष सिंह के आवास पर सभी ने ओमप्रकाश राजभर का पुतला बना कर उसमें आग लगा दी। उनके खिलाफ नारे लगाए जाने लगे। पार्टी का झंडा और टोपी आग के हवाले कर दी गई। साथ करीब 40 पदाधिकारियों व सदस्यों ने अपना इस्तीफा दे दिया।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned