फागिंग न सफाई, नगर पालिका की लापरवाही से तेजी से फैल रहा बीमारियों का खतरा

परमानतपुर सहित कई मोहल्ले की गली में सड़क ध्वस्त हो गई है

जौनपुर. शहर में अभी अधिकांश गलियों की नालियों बिना ढक्कन की खुली है और कूड़ों से नालियां जाम पड़ी है। अनेक स्थानों पर कूड़ों का ढेर लगा हुआ है। हर कोई मच्छरों से परेशान है जबकि विभागीय अमला लाचार सा बना हुआ है। अधिकांश क्षेत्र की मुख्य सड़कें तो चकाचक है। गलियां भी इंटरलाकिग से अपना अलग छाप छोड़ती हैं परमानतपुर सहित कई मोहल्ले की गली में सड़क तो ध्वस्त हो ही गई है।

ढक्कन विहीन नालियां गन्दगी का पर्याय बन चुकी हैं। नाली का गंदा पानी सीधे सड़कों तक बह रहा है। इससे शाम ढलते ही पूरा नगर की मच्छर से परेशान हो जा रहा है। नगर वासियों का कहना है समय-समय पर फागिग मशीन के न चलने से नगर में मच्छरों का प्रकोप पहले से ज्यादा बढ़ा है। जिसे नपा प्रशासन को गंभीरता से लेते हुए ठोस कार्ययोजना के तहत कार्य करना चाहिए।

नगर में टूटी सड़कों व नालियों का समय-समय मरम्मत नहीं किए जाने से नगर के प्रमुख गलियों की नालियां बजबजा रही है और सीधे बीमारियों को खुला निमंत्रण दे रही है। इस पर नगर पालिका स्वास्थ्य विभाग दोनों को ही गंभीरता से पहल करना चाहिए। नगर में गंदगी बाहर के लोग करने नहीं आते। सड़कों पर खुले में नगर के ही लोग कूड़ा फेंक देते है। जिस पर सख्ती से रोक लगना चाहिए और नगरवासियों को भी कम गंदगी फैलाने के प्रति जागरुक होना चाहिए। तभी स्वच्छ नगर का निर्माण संभव है।

Ashish Shukla
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned