डबल मर्डर से फिर दहला जौनपुर, दंपती को गोलियों से भूना

डबल मर्डर से फिर दहला जौनपुर, दंपती को गोलियों से भूना
double murder

रिटायर्ड प्रवक्ता और उनकी पत्नी को बाइक सवार बदमाशों ने संपत्ति के लिए गोली मार कर हत्या कर दी, हत्या करने के बाद बदमाश असलहा लहराते हुए फरार हो गए

जौनपुर. सिकरारा थाना के मनसिल गांव में रविवार की भोर रिटायर्ड प्रवक्ता और उनकी पत्नी को बाइक सवार बदमाशों ने गोली मार कर हत्या कर दी। हत्या करने के बाद बदमाश असलहा लहराते हुए फरार हो गए। गोली की आवाज सुनकर परिजन बदमाशों के पीछे लपके लेकिन तमंचा देख किसी की हिम्मत नहीं पड़ी। सूचना मिली तो एसपी ग्रामीण ने मौके पर पहुंचकर जांच शुरू की। पुलिस हत्या के पीछे संपत्ति का विवाद मान रही है।

मनसिल गांव निवासी 68 वर्षीय हृदय नारायण यति प्रतापगंज स्थित गोविंद वल्लभ भाई पंत डिग्री काॅलेज में समाज शास्त्र के प्रवक्ता पद से रिटायर हुए थे। रिटायरमेंट के बाद वो पत्नी कांति यति और बहू बेटों के साथ गांव स्थित मकान पर रहते थे। 

हृदय नारायण यति के पास गांव में काफी जमीन मौजूद थी। प्रवक्ता की काफी दिनों से तबीयत खराब चल रही थी। आए दिन उनकी डायलसिस की जरूरत पड़ने लगी। डायलसिस में खर्च हो रहे पैसों को देखते हुए हृदय नारायण यति अपनी संपत्ति बेचना चाहते थे। परिवार के सदस्यों ने हृदय नारायण से संपत्ति बेचने पर आपत्ति जताई। 

इस बात को लेकर परिवार में थोड़ा बहुत विवाद भी हुआ। रविवार की भोर वो पत्नी के साथ बरामदे में सोए हुए थे। इसी बीच 3 बाइक पर सवार 6 लोग वहां पहुंचे। बाइक खड़ी हुई तो हृदय नारायण ने सभी का परिचय पूछा। लेकिन बदमाशों ने बाइक से उतरते ही तमंचा निकाल दोनों की कनपटी में गोली मार दी। 

गोली लगते ही दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। गोली चलने की आवाज सुन घर में सो रहे परिजन भी बाहर निकले। बाहर दोनों का खून से सना शव और बदमाशों को देख उनके पीछे लपके तो बदमाशों ने तमंचा दिखा कर चेतावनी दी। तमंचा देख परिजनों की हिम्मत जवाब दे गई। 

इसके बाद बदमाश आराम से निकल गए। वहीं गोली की आवाज सुन पड़ोसी भी मौके पर पहुंच गए। बरामदे में दोनों का शव और परिजनों को रोता बिलखता देख ग्रामीणों ने पुलिस को फोनकर सूचना दी। सूचना मिली तो एसओ केके चौबे मौके पर पहुंचे।

छानबीन के लिए जिले से डाॅग स्क्वैड को भी बुला लिया गया। एसपी ग्रामीण एके श्रीवास्तव भी घटनास्थल का जायजा लेने पहुंच गए। एसपी ग्रामीण का कहना है कि मामला प्रथम दृष्टया संपत्ति विवाद का लग रहा है। प्रवक्त की किसी से कोई रंजिश नहीं थी। जांच के बाद चीजें और स्पष्ट हो जाएंगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned