जौनपुर में अधेड़ को मारी गोली, बाइक लूट ले गए बदमाश

चारे का बीज लेकर लौट रहे अधेड़ को बदमाशों ने गोली मार कर लूटी बाइक।

जौनपुर. नेवढ़िया थाना क्षेत्र के सहजनी गांव स्थित चैदहों ब्रम्हबाबा के पास बुधवार को बदमाशों ने एक अधेड़ को गोली मार कर बाइक लूट ली। उसे वहीं लहूलुहान हालत में छोड़ कर फरार हो गए। सूचना मिलते ही पुलिस पहुंच गई। घायल को उपचार के लिए सीएचसी से वाराणसी रेफर कर दिया गया।


भानपुर गांव निवासी बागेश्वरी पटेल 55 बाइक द्वारा घर से पशुओं के चारे का बीज लेने नोनारी बाजार गए थे। वहां से वापस लौटते समय सहजनी गांव चैदहों ब्रम्ह बाबा के पास घात लगाए बैठे बदमाशों ने उन्हें रोक लिया। रूकते ही सभी उनकी बाइक छीनने लगे। उन्होंने विरोध किया तो मारपीट होने लगी। तभी एक बदमाश ने तमंचा निकाल कर गोली मार दी। गोली लगते ही वह छटपटाते हुए वहीं गिर पड़े। कुछ देर बाद उधर से गुजर रहे एक राहगीर की नजर पड़ी तो उन्हें खून से लथपथ हालत में सरायडीह गांव स्थित मस्जिद के पास पहुंचा दिया। खबर लगते ही वहां ग्रामीणों की भीड़ जुट गई।

 

किसी ने सौ नंबर पर फोन किया तो पुलिस मौके पर पहुंची। थोड़ी ही देर में सुरेरी एसओ विनोद यादव भी मौके पर पहुंच गए। घायल को उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रामपुर ले जाया गया तो वहां चिकित्सकों ने हालत गंभीर देख वाराणसी रेफर कर दिया। खबर लगते ही एसपी केके चैधरी फोर्स के साथ पहुंच गए। उन्होंने बताया कि बदमाशों की धरपकड़ के लिए नाकाबंदी कराई गई है। शरीर पर गोली के अलावा भी कई और चोट लगी है। जल्द ही बदमाश गिरफ्त में होंगे।

 

मिलावटखोरों की चांदी
दीवाली में एक दिन शेष हैं। ऐसे में बाजार में मिलावट का कारोबार चरम पर है। त्योहारों के अवसर पर ज्यादा मुनाफा कमाने के चक्कर में कारोबारी हर चीज में मिलावट का खेल खुलेआम खेल रहे है। उपभोक्ता हर दिन लुट रहे हैं। चूंकि जब त्यौहार में एक या दो दिन बाकी रह जाता है, तो दुकानों पर खरीदारी के लिए लोगों की भीड़ उमड़ने लगती है। इस परेशानी से बचने के लिए तो अब तक बहुत से लोग दीवाली की खरीदारी कर चुके हैं। खाद्य सुरक्षा विभाग छापेमारी की औपचारिकता कर रहा है। उपभोक्ता लुट रहे हैं तो लुटें, इनको कोई परवाह नहीं। दीवाली के अवसर पर सर्वाधिक मिलावट मिठाई, खोवा, पनीर सहित अन्य खाद्य पदार्थों में होती है। यहां तक कि अधोमानक सरसों तेल व बेसन भी बिक रहा है।

by JAVED AHMAD

 

 

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned