मंत्री के दबाव में चहेतों को बेचे टेण्डर 

मंत्री के दबाव में चहेतों को बेचे टेण्डर 
tender

मंत्री की जमकर हनक चलने का मामला प्रकाश में आया है

जौनपुर. जिले की सड़कों के निर्माण व मरम्मत के लिए कार्यदायी संस्था पीडब्लूडी द्वारा दिये जा रहे ठेके में प्रदेश सरकार के एक राज्य मंत्री की जमकर हनक चलने का मामला प्रकाश में आया है । मंत्री के खास सिपहसालारों को लगभग 90 फीसदी लोगों को ठेका दिया जा रहा है । ऐसा बिभागीय सूत्रदावा कर रहे है। 


सूत्रों ने बताया कि 03 अगस्त को टेन्डर फार्म की बिक्री की गयी । फार्म उसी को दिया गया जिसे मंत्री ने देने का फरमान जारी किया। सूत्र की माने तो टेन्डर एक जाति विशेष को अधिकतर बेचा गया जो मंत्री के खास रहे । कुछ ठेकेदार मंत्री  के इशारे पर बेचे जा रहे टेन्डर का बिरोध किया तो उन्हे टेण्डर नही दिया गया । बिभाग के अधिकारी मंत्री की शह पर खुले आम मनमानी किये लेकिन सत्ता की हनक से कोई कुछ नही कर सका।  टेन्डर फार्म बिक्री के दूसरे दिन 04 अगस्त को टेन्डर डालना था । तमाम अधिकृत ठेकेदारो ने मनमाने ढंग से फार्म बेचे जाने की प्रक्रिया का विरोध करते हुए जिलाधिकारी की गैर मौजूदगी के चलते सिटी मजिस्ट्रेट से शिकायत किया ।

 सिटी मजिस्ट्रेट पीडब्लूडी कार्याल़य गये जरूर लेकिन मंत्री का फोन आते ही मूक दर्शक की भमिका में हो गये और मंत्री  के सिपह सालारो ने टेण्डर पेटी मंे जमा कर दिये । शेष ठेकेदार जिनका सम्बन्ध मंत्री से नही था वे टेन्डर जमा करने से वंचित रह गये । ज्ञात हो कि जिला स्तर पर 10 लाख से 40 लाख रूपये तक कार्याे का टेन्डर अधिशासी अभियन्ता पीडब्लूडी द्वारा दिया जायेगा । 

इसके उपर दो कराड़ रूपये तक का ठेका मंडल स्तर से होगा वहां भी मंडलीय अधिकारी मंत्री के दबाव में रहे वहां भी जमकर धांधली बाजी की गयी है और मंत्री के लोगों को ठेका मिलने के संकेत है ।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned