इंडिया पेमेंट्स बैंक की हुई शुरुआत, सांसद ने बताया नई समाजिक वित्तीय क्रांति का आगाज

Mohd Rafatuddin Faridi

Publish: Sep, 02 2018 09:43:00 PM (IST)

Jaunpur, Uttar Pradesh, India

जौनपुर. इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक का उद्घाटन जौनपुर के डाक मंडल प्रधान डाकघर में लोकसभा सांसद कृष्ण प्रताप सिंह ने फीता काटकर किया। उनके साथ मछली शहर के सांसद रामचरित्र निषाद भी मौजूद रहे। सांसद कृष्ण प्रताप सिंह ने कहा कि इस पेमेंट बैंक के शुरू होने से घर बैठे डाकिये के माध्यम से बैंकिंग सुविधाएं मिलेंगी। समाज में हाशिये पर खड़े व्यकति केा भी वित्तीय मुख्य धारा में शामिल किया जाएगा।

 

उन्होंने कहा कि डाकिये कल भी हमारे अभिन्न अंग थे और अब पेमेंट बैंक के काम को भी वही अंजाम देंगे। डाकिया सरकार का वह प्रतिनिधि है जो जनता के सुख-दुख से सीधे जुड़ा रहता है। उसकी पहुंच हर नागरिक तक होती है। भले ही वह किस सामाजिक स्थिति का हो। उन्होंने पेमेंट बैंक की शुरूआत को ऐसी सामाजिक क्रांति का आगाज करार दिया जो सभी देशवासियों को एक साझा वित्तीय आर्थिक और डिजिटल धरातल पर ले आएगा।

 

मछली शहर सांसद निषाद ने कहा कि इसका मुख्य उद्देश्य आम जनता के लिये सबसे अधिक पहुंच वाला किफायती और भरोसेमंद बैंक बनाना है। यह सरकार के वित्तीय समावेश के लक्ष्य को पूरा करेगा। यह बैंक विविध प्रकार से सेवाएं प्रदान करेगा, जिनमें बचत और चालू खाते, धन अंतरण, प्रत्यक्ष लाभ अंतरण, बिल एवं जनोपयोगी भुगतान, उद्यम और व्यापार भुगतान भी शामिल है।भविष्य में आईपीपीवी के क्रियाशील हो जोन के बाद मनरेगा में दी जाने वाली मजदूरी, छात्रवृत्तियां, सामाजिक कल्याण योजनाएं और अन्य सरकारी सब्सिडी हर ग्राहक तक डाकिये के जरिये उपलब्ध कराई जाएगी।

 

जिलाधिकारी अरविन्द मलप्पा बंगारी ने बधाई देते हुए कहा कि बैंकिंग जगत में यह एक क्रातिकारी कदम है ग्राहकों से अच्छा सम्बन्ध बनाने का अनुरोध करते हुए कहा कि अपने लक्ष्य प्रप्ति के लिए अपने व्यवहार में परिवर्तन लाना होगा। मैनेजर इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक राजीव कुमार ने बताया कि यह बैंक आधार का इस्तेमाल करते हुए पेपरलेस रूप से मिनटों में खाता खोलेंगे और क्यूआर कार्ड और बायोमेट्रिक प्रणालीकरण का प्रयोग कर ग्राहकों को डिजिटल भुगतान की सुविधा भी प्रदान करेगा। पोस्टमैन के पास एक स्मार्टफोन और बायोमेट्रिक उपकरण होगा जो उन्हें सुगमतापूर्वक वित्तीय सेवाएं प्रदान कराएगा और जनसामान्य का मार्गदर्शन करने में सहायता प्रदान करेगा। आईपीपीबी का क्यूआर कार्ड होने से ग्राहकों को अपना खाता संख्या और पिन याद रखने की आवश्यकता नहीं होगी।


अधीक्षक डाकघर जौनपुर गौरी शंकर सिंह ने गणमान्य अतिथियों, डाक कर्मियों व मीडिया कर्मियों का आभार व्यक्त किया तथा इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के बारे में बताया कि इस बैंक का उद्देश्य जन सामान्य के लिए सर्वाधिक पहुंच वाला किफायती और भरोसेमंद बैंक बनाना तथा देश में बैंकिंग सुविधाओं से वंचित तथा अल्प समुदाय वाले जनसमूह की राह की बाधाओं का हटाकर वित्तीय समावेश के लक्ष्य को प्राप्त करना है। श्री सिंह ने बताया कि ग्राहक इस बैंक से रु0 एक लाख तक जमा कर सकते हैं दूसरे बैंक खाते में रकम ट्रांसफर भी सुविधा है।

 

जौनपुर मंडल की कुल 367 ग्रामीण डाक घर के डाक कर्मी ग्रामीणों को बीमा म्यूच्युअल फंड और अन्य वित्तीय सेवाओं की जानकारी भी देंगे, इसके लिए ग्रामीण डाक सेवकों को प्रशिक्षण देने के लिए वित्तीय साक्षरता कार्यक्रम भी चलाया जाएगा। लोगों को डिजिटल भुगतान के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। 31 दिसंबर 2018 तक मंडल के सभी डाकघरों में इसका विस्तार किया जाएगा। पोस्ट ऑफिस के वर्तमान खाताधारक को भी इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की सुविधा स्वतः मिल जाएगी। इस बैंक से ऐसे वित्तीय परिवेश के विकास में सहायता मिलेगी जो डिजिटल होगा।

By Javed Ahmad

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned